ताज़ा खबर
 

आप का दावा, पार्टी के 9 विधायकों को चुनाव आयोग ने गलती से नोटिस भेजा

आम आदमी पार्टी ने आज दावा किया कि ‘रोगी कल्याण समिति’ के अध्यक्ष का पद कभी नहीं संभालने वाले उसके नौ विधायकों को चुनाव आयोग ने कथित तौर पर लाभ का पद संभालने को लेकर गलती से नोटिस जारी किया।

Author नयी दिल्ली | Updated: November 10, 2016 11:21 PM

आम आदमी पार्टी ने आज दावा किया कि ‘रोगी कल्याण समिति’ के अध्यक्ष का पद कभी नहीं संभालने वाले उसके नौ विधायकों को चुनाव आयोग ने कथित तौर पर लाभ का पद संभालने को लेकर गलती से नोटिस जारी किया। पार्टी ने ‘लोकतंत्र विरोधी’ बलों द्वारा खुद को इस्तेमाल किये जाने के लिए चुनाव आयोग पर हमला भी बोला। पार्टी ने इस मामले के शिकायतकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की मांग की, जिन्होंने दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष रामनिवास गोयल का नाम भी इस संबंध में 27 विधायकों की सूची में शामिल किया था। गोयल ने कल आरोप खारिज कर दिया था। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया था कि सरकारी अस्पतालों में रोगी कल्याण समिति के अध्यक्ष का पद लाभ का पद है और इन पदों पर आसीन विधायकों को अयोग्य घोषित करने की मांग की थी।

 
पार्टी ने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘‘आप विधायकों को लोक कल्याण का काम नहीं करने दिया जा रहा है और लोगों को भ्रमित करने की मंशा से राजनीति से प्रेरित, झूठे और दुर्भावनापूर्ण अभियान के जरिये उनको अनावश्यक विवादों में घसीटा जा रहा है।’ आप ने कहा कि सितंबर 2006 की एक सरकारी अधिसूचना के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के विधानसभा सदस्य अधिनियम, 1997 में हुए संशोधन के अनुसार रोगी कल्याण समिति के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्य के पद लाभ के पद नहीं है। पार्टी ने साथ ही शेष 18 विधायकों को भी इस मामले से दोषमुक्त करने की मांग की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 प्रदूषण की बेहतर निगरानी के लिए बनाई जाएं कमिटियां: एनजीटी
2 कर्नाटक के शिक्षा मंत्री पर समारोह के दौरान ही पोर्न क्लिप देखने का आरोप, बचाव में उतरे कांग्रेस अध्‍यक्ष