आप विधायक का भाजपा से सवाल, कहा- कैसे अंतराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव के मुख्य अतिथि बने अमित शाह ?

अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को मुख्यातिथि बनाए जाने को लेकर विवाद शुरू हो गया है।

अमित शाह और सुरेन्द्र कमांडो, फोटो सोर्स- जनसत्ता ऑनलाइन

अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को मुख्यातिथि बनाए जाने को लेकर विवाद शुरू हो गया है। इस मामले पर आम आदमी पार्टी (आप) के नेता सुरेन्द्र कमांडो ने सवाल उठाया कि भाजपा सरकार स्पष्ट करें कि अंतराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को कौनसे प्रोटोकॉल से मुख्यातिथि बनाया गया है?

क्या बोले सुरेन्द्र कमांडो
दरअसल आम आदमी पार्टी के दिल्ली से विधायक सुरेन्द्र कमांडो ने अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को मुख्यातिथि बनाए जाने को लेकर सवाल खड़े किए हैं। एक तरफ जहां उन्होंने अमित शाह को मुख्यातिथि बनाने का प्रोटोकॉल पूछा तो वहीं दूसरी ओर उन्होंने कहा कि वैसे तो भाजपा हिंदू-हिंदू का जाप करती है, जबकि अमित शाह तो हिंदू भी नहीं हैं।

भाजपा अपने लाभ के लिए करवा रही पवित्र आयोजन
सुरेन्द्र कमांडो ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि गीता महोत्सव जैसे पवित्र आयोजनों का इस्तेमाल अपने लोगों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से किया जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने स्वामी ज्ञाननंद की गीता को मंहगे दाम पर खरीदने और इस आयोजन पर कई तरह के सवाल भी खड़े किए। बता दें कि कमांडो ने भाजयुमों के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पुनीत मल्ल और उनकी पत्नी सहित झांसा की सरपंच मल्ल को समर्थकों सहित आम आदमी पार्टी में शामिल करवाया है।

जाति व धर्म के नाम पर देश बांट रही भाजपा

आम आदमी पार्टी कुरुक्षेत्र लोकसभा प्रभारी और दिल्ली वजीरपुर विधायक राजेश गुप्ता ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल पर जमकर निशाना साधा। गुप्ता ने कहा कि चुनाव आते ही केन्द्र और प्रदेश भाजपा को राम मंदिर और जातपात व धर्म याद आ जाता है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट