ताज़ा खबर
 

Bharat Ratna : आप नेता संजय सिंह के बोल – संघ की शाखा में जाओ, भारत का रत्न बन जाओ

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, जनसंघ के नेता नानाजी देशमुख (मरणोपरांत) और संगीतकार भूपेन हजारिका (मरणोपरांत) को भारत रत्न देने की घोषणा के साथ इस मुद्दे पर राजनीति शुरू हो चुकी है। इस घोषणा पर विवादित टिप्पणी करने वालों में आम आदमी पार्टी (आप) के नेता संजय सिंह भी शामिल हैं।

Author January 26, 2019 3:12 PM
AAP नेता संजय सिंह (एक्सप्रेस फाइल फोट/अमित मेहरा)

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, जनसंघ के नेता नानाजी देशमुख (मरणोपरांत) और संगीतकार भूपेन हजारिका (मरणोपरांत) को भारत रत्न देने की घोषणा के साथ इस मुद्दे पर राजनीति शुरू हो चुकी है। इस घोषणा पर विवादित टिप्पणी करने वालों में आम आदमी पार्टी (आप) के नेता संजय सिंह भी शामिल हैं। उन्होंने ट्वीट में लिखा, ‘‘भाजपा की भारत रत्न योजना ‘एक बार संघ की शाखा में जाओ, भारत का रत्न बन जाओ’ मजाक बना दिया भारत रत्न को।’’ संजय सिंह के इस ट्वीट पर लोगों ने काफी नाराजगी जताई है।

ट्वीट में की ऐसी टिप्पणी :  संजय सिंह ने लिखा, ‘‘सरकार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस, भगत सिंह, डॉ. राम मनोहर लोहिया, ध्यानचंद को आज तक भारत रत्न नहीं दिया। नानाजी देशमुख को इसलिए भारत रत्न दिया जा रहा है, क्योंकि वे जनसंघ के बड़े नेता थे। वहीं, प्रणब मुखर्जी ने आरएसएस हेडक्वॉर्टर में हेडगेवार को भारत का बेटा कहा था और आप के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द की थी, इसलिए उन्हें सर्वोच्च सम्मान के लिए चुन लिया गया।’’

सोशल मीडिया पर मिला ऐसा रिएक्शन : संजय सिंह के ट्वीट पर लोगों ने काफी नाराजगी जाहिर की है। कई लोगों ने ट्विटर पर जवाब दिया कि आप भी आरएसएस की शाखा में चले जाओ, आपको भी भारत रत्न मिल जाएगा। कुछ लोगों ने दिल्ली के सीएम केजरीवाल को भी इस मुद्दे में खींच लिया। उन्होंने लिखा कि केजरीवाल की हां में हां मिलाने पर भी भारत रत्न मिल सकता है। कई लोगों ने पूर्व राष्ट्रपति पर टिप्पणी करने को लेकर भी संजय सिंह को आड़े हाथों लिया है।

शुक्रवार की घोषणा से पहले 45 हस्तियों को मिला भारत रत्न : बता दें कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी जून 2018 के दौरान नागपुर में आयोजित आरएसएस के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे। इस पर कांग्रेस के कई नेताओं ने आपत्ति जताई थी। इससे पहले भारत रत्न अंतिम बार 2015 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और पंडित मदन मोहन मालवीय (मरणोपरांत) को दिया गया था। देश में अब तक 45 हस्तियों को भारत रत्न से सम्मानित किया गया। शुक्रवार की घोषणा के बाद इनकी संख्या 48 हो गई है।

प्रणब के बेटे ने जताई खुशी : प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने पिता को भारत रत्न मिलने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे एक बेटे के रूप में काफी खुशी और गर्व महसूस हो रहा है। मेरे पिता ने करीब 50 साल तक जनता की सेवा की और अलग-अलग कसौटियों पर खरे उतरे। हम देश की जनता और सरकार को धन्यवाद देते हैं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App