ताज़ा खबर
 

आप ने खड़से के खिलाफ अदालत की निगरानी में जांच की मांग की

आम आदमी पार्टी ने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से के खिलाफ आरोपों के संबंध में अदालत की निगरानी में जांच की मांग की है। गौरतलब है कि जमीन सौदा संबंधी एक मामले में अनियमितताओं सहित कई आरोपों को लेकर खड़से को इस्तीफा देना पड़ा। आप नेता आशीष खेतान ने पणजी में कहा कि खड़से […]

Author पणजी | June 8, 2016 4:18 AM
महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री एकनाथ खडसे। (FILE PHOTO)

आम आदमी पार्टी ने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खड़से के खिलाफ आरोपों के संबंध में अदालत की निगरानी में जांच की मांग की है। गौरतलब है कि जमीन सौदा संबंधी एक मामले में अनियमितताओं सहित कई आरोपों को लेकर खड़से को इस्तीफा देना पड़ा। आप नेता आशीष खेतान ने पणजी में कहा कि खड़से के इस्तीफा से हम लोग खुश नहीं हैं। ऐसा लगता है कि भाजपा उन्हें बचाना चाहती है। इसलिए जब उन्होंने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया तब उनके साथ भाजपा के दो वरिष्ठ नेता मौजूद थे।

उन्होंने कहा कि आखिर उनके खिलाफ तीन मामलों में वे प्राथमिकी क्यों नहीं दर्ज करा रहे हैं। तीनों मामलों में प्राथमिकी दर्ज होनी चाहिए और अदालत की निगरानी में जांच कराई जानी चाहिए, जो कि नहीं किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि हर किसी को यह महसूस हो रहा है कि उन्हें बचाने की कोशिश की जा रही है। भाजपा को तो उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचाना चाहिए और उनके खिलाफ मामले दर्ज कर गहन जांच होनी चाहिए। एक प्रश्न के जवाब में खेतान ने कहा कि महाराष्ट्र में अगर मुख्यमंत्री के बाद दूसरा सबसे अधिक प्रभावशाली मंत्री इतना भ्रष्ट है तो आप कल्पना कर सकते हैं कि सरकार में क्या हो रहा है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने पुणे में जमीन सौदा के एक मामले में अनियमितताओं सहित कई आरोपों को लेकर शनिवार को इस्तीफा दिया। खड़से पर उनके निजी सहायक द्वारा कथित तौर पर रिश्वत मांगने के अलावा कराची में फरार दाऊद इब्राहीम के आवास से उनके पास कथित तौर पर फोन आने के भी आरोप हैं। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उनके खिलाफ आरोपों के संबंध में हाई कोर्ट के सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति की अध्यक्षता में जांच की घोषणा की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App