ताज़ा खबर
 

राजीव गांधी का भारत रत्न सम्मान वापस लेने के खिलाफ प्रस्ताव पर घिरी ‘आप’, कांग्रेस ने कहा- इस्तीफा दें केजरीवाल

दिल्ली विधानसभा में शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का भारत रत्न सम्मान वापस लेने के प्रस्ताव पर आम आदमी पार्टी (आप) चौतरफा घिर चुकी है। इस मामले में सीएम अरविंद केजरीवाल ने पूरी तरह चुप्पी साध रखी है।

Author Updated: December 22, 2018 1:21 PM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फाइल फोटो)

दिल्ली विधानसभा में शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का भारत रत्न सम्मान वापस लेने के प्रस्ताव पर आम आदमी पार्टी (आप) चौतरफा घिर चुकी है। अलका लांबा समेत पार्टी के अन्य विधायकों के साथ-साथ दूसरे दल भी उसे आड़े हाथों ले रहे हैं। इस मामले में सीएम अरविंद केजरीवाल ने पूरी तरह चुप्पी साध रखी है। डिप्टी सीएम मनीष सिसौदिया और आप विधायक सौरभ भारद्वाज ने शनिवार दोपहर 2 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने की जानकारी दी है। वहीं, अलका लांबा भी शाम तक मीडिया से बात कर सकती हैं। उधर, कांग्रेस नेता अजय माकन ने कहा है कि इस मामले में केजरीवाल को इस्तीफा दे देना चाहिए।

प्रस्ताव पर हो रही बहस
लांबा का कहना है कि प्रस्ताव में राजीव गांधी से भारत सम्मान वापस लेने की बात पहले से प्रकाशित थी। हालांकि, विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल का कहना है कि मूल प्रस्ताव में राजीव गांधी का जिक्र नहीं था। जरनैल सिंह ने उनका नाम अपने हाथ से लिख दिया था। इस पर वोटिंग भी नहीं हुई। गोयल ने अलका लांबा के दावे को खारिज करते हुए कहा कि लांबा ने प्रस्ताव के विरोध में विधानसभा से वॉकआउट नहीं किया था। हालांकि, अलका लांबा ने इस संबंध में एक ट्वीट भी किया है, जिसमें राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने का प्रस्ताव है। वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विधानसभा की कार्यवाही के वीडियो में सदन में पढ़े गए प्रस्ताव में भी राजीव गांधी का जिक्र था।

पार्टी ने प्रस्ताव पर समर्थन देने के लिए कहा : लांबा
इस विवाद पर सीएम अरविंद केजरीवाल कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। शनिवार सुबह वे मीडिया के सवालों से बचते हुए निकल गए। वहीं, पार्टी से इस्तीफा देने वाली अलका लांबा ने एक और आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने उन्हें अपने भाषण में राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने के प्रस्ताव का समर्थन करने के लिए कहा था।

लांबा ने भाषण के वीडियो का जिक्र किया
अलका लांबा ने इस संबंध में एक ट्वीट भी किया है। उन्होंने शनिवार को अपनी बात दोहराते हुए कहा, ‘‘सदन में सबके भाषण के विडियो हैं। इनमें देखा जा सकता है कि जब वह प्रस्ताव पास हो रहा था, मैं सदन में थी। प्रस्ताव की जो कॉपी मुझे मिली, उसमें राजीव गांधी का नाम लिखा था।’’

 

कांग्रेस ने कहा- बीजेपी की बी टीम है आप
कांग्रेस नेता अजय माकन ने आम आदमी पार्टी को बीजेपी की बी टीम करार दिया। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी बीजेपी के इशारे पर काम कर रही है।

बीजेपी का दावा- इस विवाद में भी कांग्रेस का हाथ
दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि इस वक्त आम आदमी पार्टी में लड़ाई चल रही है। कुछ नेता राजीव गांधी पर प्रस्ताव के समर्थन में हैं, जबकि कई खिलाफ हैं। असल में आप नेता कांग्रेस के इशारे पर काम कर रहे हैं। वे लोगों को भ्रमित करना चाहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बुलंदशहर हिंसा: झूठे आरोप के चलते 16 दिन जेल में गुजारने वाले सर्फुद्दीन ने कहा- मुसलमान हैं, इसलिए बन रहे निशाना
2 भोपाल में फंसा पाकिस्तानी नागरिक, दावा- प्यार के लिए आया था भारत, 10 साल सजा भी काटी
3 जम्मू-कश्मीर : पुलवामा में मारे गए 6 आतंकवादी, कई घंटे से चल रही थी मुठभेड़
जस्‍ट नाउ
X