ताज़ा खबर
 

बच्चे की अपहरण कर हत्या, यौन उत्पीड़न का आरोप

पुलिस ने बताया कि पूछताछ में आरोपी बच्चे को भलस्वा डेयरी इलाके में ले गया, जहां उसने उसके साथ यौन उत्पीड़न किया। बच्चे की पहचान नहीं हो सकी। आरोपी ने उसका चेहरा पत्थर से कुचल कर भलस्वा गोल्फ के पास झाड़ियों में फेंक दिया था।

प्रतीकात्मक तस्वीर

शालीमार बाग से दस साल के एक बच्चे का अहपरण कर उसकी हत्या कर दी गई। आरोप है कि उसके साथ यौन उत्पीड़न भी किया गया है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा कर परिजनों को सौंप दिया है। सूचना मिलने पर पुलिस ने आरोपी मनोज को गिरफ्तार कर लिया है। हैदरपुर में रहने वाला बच्चा माता-पिता की अकेली संतान थी। जानकारी के मुताबिक बच्चा प्रीतमपुरा स्थित सरकारी स्कूल में चौथी कक्षा में पढ़ता था। शनिवार को स्कूल से लौटने के बाद मंदिर से पानी लेने गया था, तभी अचानक से लापता हो गया। देर शाम तक बच्चा नहीं लौटा तो इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की छानबीन की तो एक युवक बच्चे को अपने साथ ले जाते हुए देखा गया। आरोपी की पहचान कर उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बताया कि पूछताछ में आरोपी बच्चे को भलस्वा डेयरी इलाके में ले गया, जहां उसने उसके साथ यौन उत्पीड़न किया। बच्चे की पहचान नहीं हो सकी। आरोपी ने उसका चेहरा पत्थर से कुचल कर भलस्वा गोल्फ के पास झाड़ियों में फेंक दिया था। फिलहाल पुलिस का कहना है कि उसके साथ यौन उत्पीड़न हुआ है कि नहीं इस बारे में पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

रंजिश में युवक की पीट-पीट कर हत्या
रोहिणी सेक्टर-16 में युवक की आपसी रंजिश में हत्या कर दी गई। मोहल्ले के ही कुछ लड़कों ने उसे गली नंबर तीन में घेर लिया और उस पर डंडों और चाकू से हमला किया था। वारदात की सूचना मिलने पर पुलिस उसे पास के अस्पताल लेकर पहुंची, जहां डॉक्टरों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। युवक की पहचान 27 साल के महेंद्र सिंह उर्फ सोनू के रूप में हुई है। जानकारी के मुताबिक रोहिणी सेक्टर-16 में अपने परिवार के साथ रहने वाले पेशे से चालक महेंद्र शनिवार रात करीब आठ बजे पत्नी के कहने पर मोमोज लेने के लिए मोटरसाइकिल से बाजार जा रहा था। तभी गली नंबर तीन में मन्नू, काला, रवि, हैप्पी और कृष्णा नामक युवकों ने उसे घेर लिया। इन युवकों से महेंद्र की पहले भी लड़ाई हुई थी। इसी सिलसिले में वह जेल भी गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App