ताज़ा खबर
 

सौतेली बेटी का रेप कर फरार था आरोपी, OTP की मदद से 2 महीने बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

दिल्ली पुलिस ने कथित तौर पर सौतेली बेटी के साथ रेप के आरोपी पिता को 2 महीने बाद गिरफ्तार किया है। बता दें कि आरोपी पिछले 2 महीने से फरार था और पुलिस को चकमा देने के लिए अलग अलग स्थानों पर भाग रहा था।

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

दिल्ली के एक शख्स को पुलिस ने दो साल तक कथित तौर पर उसकी 11 साल की सौतेली बेटी के साथ बलात्कार करने के मामले में गिरफ्तार किया है। बता दें कि आरोपी दक्षिणी दिल्ली के मॉल में एक शोरूम एग्जीक्यूटिव है। पुलिस को इस शख्स की दो महीने से तलाश थी लेकिन आरोपी जनवरी से पुलिस को चकमा दे रहा था। हालांकि दो महीने बाद पुलिस ने आरोपी को ओटीपी की मदद से गिरफ्तार किया है।

क्या है मामला: दरअसल टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 13 जनवरी 2019 को 11 वर्षीय लड़की अपने घर से भागने में कामयाब रही और अपनी चाची के घर पहुंची। पीड़िता ने चाची को बताया कि जब से वो अपने सौतेला पिता के साथ रह रही है तभी से वो उसका यौन शौषण कर रहे हैं। पीड़िता की बात सुनकर चाची ने पुलिस से संपर्क किया। जिसके बाद मेडिकल में यौन शोषण की पुष्टि हुई और आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज हुआ। बता दें कि पीड़िता दक्षिण दिल्ली के वसंत कुंज की रहने वाली है। पीड़िता की मां ने पिछले साल पुनर्विवाह किया, जिसके बाद वो सब साथ में रहने लगे थे।

ओटीपी की मदद से किया गिरफ्तार: डीसीपी (दक्षिण-पश्चिम) देवेंद्र आर्य ने कहा कि आरोपी को गिरफ्तार करने के पहले ही वो फरार हो गया था जिसके बाद मामले को सुलझाने के लिए एक से ज्यादा टीमें बनाई गई थीं। आरोपी हर कुछ दिनों में अपनी लोकेशन बदल रहा था। इसके साथ ही वो कॉल्स भी व्हाट्सएप से ही कर रहा था। हमने कई जगह लोकेशन ट्रेस करके छापा मारा लेकिन हर बार वो फरार होने में कामयाब हुआ। लेकिन हमें सफलता तब मिली जब उसने ऐप से टिकट बुक किया और फोन पर ओटीपी मंगाया। टिकट बुक करने के लिए आरोपी ने एप इंस्टाल किया। जांच टीम ने कंपनी से बात की और पता लगा कि आरोपी ने शिरडी के लिए टिकट बुक किया है। ऐसे में पुलिस पहले ही शिरडी पहुंचकर आरोपी का इंतजार करने लगी और आरोपी को पहुंचते ही गिरफ्तार कर लिया।


समझें पूरा मामला:
13 जनवरी: 11 वर्षीय बच्ची घर से भागकर अपनी चाची के घर पहुंची।
14 जनवरी: पुलिस के साथ मेडिकल के लिए पहुंची पीड़िता और पुष्टि के बाद आरोपी को खिलाफ केस हुआ दर्ज।
17 जनवरी: पुलिस की पहली छापेमारी आगरा में हुई लेकिन आरोपी फरार हो गया।
23 जनवरी: पुलिस ने कोच्चि में छापेमारी की लेकिन आरोपी फिर फरार हो गया।
13 फरवरी: फोन ट्रेस से पता लगा कि आरोपी झांसी में है, हालांकि इस बार भी आरोपी फरार निकला। हालांकि यहां पता लगा कि आरोपी ने शिरडी के लिए टिकट बुक किया।
28 फरवरी: दिल्ली पुलिस शिरडी पहुंची ताकि आरोपी को गिरफ्तार किया जा सके।
मार्च: 1 मार्च को आरोपी को गिरफ्तार किया गया और इसके बाद उसे दिल्ली लाया गया।

Next Stories
1 पूर्व एयर मार्शल बोले- आर्थिक रूप से पाक कमजोर, लेकिन डिफेंस डील करने में भारत से बेहतर
2 जल्‍द कॉकपिट में लौटना चाहते हैं अभिनंदन, मिलेगा पहला ‘भगवान महावीर अहिंसा पुरस्‍कार’
3 पाक का लड़ाकू विमान F-16 ताकतवर था तो भारत ने MiG-21 क्यों भेजा? ये है वायुसेना का जवाब
आज का राशिफल
X