ताज़ा खबर
 

एक मरीज में पाए गए डेंगू और चिकनगुनिया दोनों के डंक

राजधानी अभी डेंगू चिकनगुनिया और मलेरिया की गिरफ्त में है। इनमें एक बात समान है कि इन सभी में बुखार होता है। और इनमें से तीन तरह के बुखार का मुख्य कारण मच्छर होते हैं।

राजधानी अभी डेंगू चिकनगुनिया और मलेरिया की गिरफ्त में है। इनमें एक बात समान है कि इन सभी में बुखार होता है। और इनमें से तीन तरह के बुखार का मुख्य कारण मच्छर होते हैं। चिकित्सकों की मानें तो इनमें से अलग-अलग कोई एक भी बीमारी हो तो स्थिति बिगड़ने की आशंका कम से कम रहती है। लेकिन एक साथ एक से अधिक तरह का संक्रमण हो तो स्थिति बिगड़ सकती है।

इस बार ऐसे ही मामले सामने आ रहे हैं। एक मरीज में एक साथ डेंगू और चिकनगुनिया या डेंगू और मलेरिया एक साथ हो रहे हैं। मलेरिया और चिकनगुनिया एक साथ एक ही मरीज में हो रहे हैं। एम्स में पिछले महीने इलाज करा चुके अजय ने बताया कि उन्हें एक साथ डेंगू, चिकनगुनिया व मलेरिया भी हो गया था। परेशान कर देने वाली हकीकत है कि देश की राजधानी दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में ऐसे मामले सामने आ रहे हैं। यानी दिल्ली में तीनों तरह के मच्छर पांव पसार चुके हैं। जहां डेंगू व चिकनगुनिया के मच्छर साफ पानी मे भी पनप जाते हैं वहीं मलेरिया के मच्छर गंदे पानी या गंदगी में पैदा होने वाले मच्छर हैं। ताजा मामले में डेंगू और चिकनगुनिया के मेलजोल ने एक मरीज को मौत की नींद सुला दिया है। दिल्ली के अपोलो अस्पताल में भर्ती एक युवक (31) को ऐसे कई तरह के संक्रमण के कारण भर्ती किया गया था। लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका। अस्पताल के आधिकारिक बयान के मुताबिक, इस मरीज को डेंगू और चिकनगुनिया दोनों की शिकायत थी। कुछ ऐसे ही मामले अन्य अस्पतालों में भी सामने आ रहे हैं जिनमें मरीजों में एक साथ कई तरह के संक्रमण का पता चल रहा है।

गंगाराम अस्पताल के मेडिसिन विभाग के डॉक्टर अतुल गोगिया ने बताया कि उनके पास भी ऐसे मामले आए जिनमें मरीज में एक से अधिक तरह के संक्रमण हुए। उन्होंने बताया कि इस मौसम में ऐसे सात मामले देखे हैं जिन्हें डेंगू और चिकनगुनिया या चिकनगुनिया और मलेरिया दोनों रहे हों। उन्होंने बताया कि जितने अधिक तरह के संक्रमण शरीर में ज्यादा होते हैं इलाज करना उतना ही कठिन होता जाता है। डेंगू और चिकनगुनिया की कोई विशेष दवा नहीं है। मगर जांच में मलेरिया की पुष्टि होने पर मरीज को दवा देने की जरूरत होती है।
दिल्ली सरकार के ही अस्पताल लालबहादुर शास्त्री (एलबीएस) के एक वरिष्ठ चिकित्सक के मुताबिक उनके पास भी इस तरह के मरीज आ रहे हैं।

उन्होंने बताया कि एक ही मरीज में डेंगू और चिकनगुनिया एक साथ होने के तीन मामले वे खुद देख चुके हैं। ऐसे मरीजों का इलाज करना चुनौतीपूर्ण होता है। सफदरजंग अस्पताल में भर्ती मरीज के परिजन राकेश ने बताया कि उनके मरीज को भी डेंगू के कारण भर्ती किया था पर बाद में मलेरिया भी हो गया था। गुरु तेग बहादुर अस्पताल में (जीटीबी) के निदेशक सुनील कुमार ने कहा कि हालांकि ऐसे मामले कम ही आते हैं। लेकिन जीटीबी अस्पताल में भी ऐसे मामले सामने आए हैं जिन्हें डेंगू और मलेरिया दोनों हो रहा हो। हालांकि चिकनगुनिया के साथ मलेरिया और डेंगू का संक्रमण हो ऐसे मामले सामने नहीं आए हंै।

Next Stories
1 शांति दूतों का स्वागत करने के लिए दिल्ली में जुटेंगे गांधीजन
2 एक माह में डेंगू ने लील ली 9 लोगों की जान
3 विदाई की तैयारी में मानसून के बदरा
ये पढ़ा क्या?
X