X

मध्य प्रदेश: चारपाई पर टांगकर मरीज को अस्पताल ले गये परिजन, बाढ़ में बह गई सड़क

तबीयत खराब होने पर परिजन मरीज को चारपाई पर टांगकर अस्पताल ले गए क्योंकि बाढ़ की वजह से यहां की सड़कें बह गई थी। आने-जाने का कोई साधन नहीं बचा था।

मध्य प्रदेश के दामोह जिले में तबीयत खराब होने पर परिजन मरीज को चारपाई पर टांगकर अस्पताल ले गए क्योंकि बाढ़ की वजह से यहां की सड़कें बह गई थी। आने-जाने का कोई साधन नहीं बचा था। इस घटना का एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें यह दिख रहा है कि चार लोग चारपाई पर लिटाकर एक आदमी को लेकर जा रहे हैं। इस दौरान वे खेतों से भी गुजर रहे हैं और बाढ़ से उफनती नदी को भी पार कर रहे हैं। सड़क नहीं होने की वजह से न तो इस क्षेत्र के गांव में एंबुलेंस पहुंच सका और न ही कोई अन्य वाहन। यहां तक की रिक्शा भी नहीं जा सकता था। ऐसी स्थिति में परिजनों के पास मरीज को अस्पताल ले जाने के लिए चारपाई के अलावा और कोई विकल्प नहीं था।

इस घटना के बाद एक बार फिर से भाजपा सरकार की आलोचना शुरू हो गई है। सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की उस टिप्पणी को यूजर्स ने साझा किया, जिसमें एक कार्यक्रम के दौरान वर्ष 2017 में वाशिंगटन में राज्य की सड़कों की तुलना अमेरिकी सड़कों से की थी। उन्होंने कहा था, “जब मैं वाशिंगटन हवाई अड्डे पर उतरा और सड़कों पर यात्रा की, मुझे लगा कि मध्य प्रदेश की सड़कें संयुक्त राज्य अमेरिका की तुलना में बेहतर हैं।” मुख्यमंत्री को कई बार राज्य में सड़कों की स्थिति और रख-रखाव को लेकर आलोचनाओं का सामना करना पड़ा है।

मध्य प्रदेश में मरीज को चारपाई पर टांगकर अस्पताल ले जाने की यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी इस तरह की कई घटनाएं सामने आई है जब मेडिकल सुविधाओं के अभाव या खराब सड़क की वजह से मरीज को चारपाई पर टांगकर अस्पताल ले जाया गया। जुलाई महीने में राज्य के टीकमगढ़ जिले के एक बाढ़ प्रभावित इलाके में एंबुलेंस सर्विस नंबर द्वारा किसी तरह की प्रतिक्रिया नहीं देने की वजह से एक गर्भवती महिला को परिजन चारपाई पर टांगकर अस्पताल ले गए थे। इसी तरह की एक और घटना में टीकमगढ़ जिले से ही सामने आई थी। यहां एक व्यक्ति को अपनी मां के शरीर को मोटरसाइकिल पर पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाने के लिए मजबूर होना पड़ा था। अस्पताल ने वैन भेजने से इनकार कर दिया था। इसके बाद, मृतक महिला कुंवर बाई के बेटे और उसके रिश्तेदारों ने शरीर को मोटरसाइकिल पर बांध दिया और पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल ले गए थे।

  • Tags: Madhya Pradesh news,