ताज़ा खबर
 

METRO में देसी पिस्तौल के साथ युवक गिरफ्तार

शास्त्री पार्क मेट्रो स्टेशन पर अपने सामान में देसी पिस्तौल और दो जिंदा कारतूस रखने के आरोप में उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के एक नागरिक को गिरफ्तार किया गया है।

Author नई दिल्ली | February 2, 2016 4:06 AM
DMRC का फाइल फोटो

शास्त्री पार्क मेट्रो स्टेशन पर अपने सामान में देसी पिस्तौल और दो जिंदा कारतूस रखने के आरोप में उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के एक नागरिक को गिरफ्तार किया गया है। सोमवार सुबह शास्त्री पार्क मेट्रो स्टेशन पर सीआईएसएफ के मुस्तैद जवानों ने स्कैनिंग के दौरान बैग में हथियार और गोला-बारूद का पता लगाया। बैग मालिक की पहचान 21 साल के सचिन कपूर के रूप में हुई है। आरोपी को दिल्ली पुलिस को सौंप दिया गया है और उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। सीआईएसएफ ने सोमवार को ही एक अन्य घटना में छतरपुर मेट्रो स्टेशन पर एक लाख चार हजार रुपए से भरा लावारिस बैग उसके मालिक तक पहुंचाने में मदद की। बल के डिप्टी कमांडेंट हेमेंद्र सिंह ने बताया कि नाइजीरिया के रहने वाले बोंजा का बैग दूसरे यात्री के बैग से बदल गया था। बैग में रुपए के अलावा अन्य कीमती सामान थे। स्टेशन कंट्रोलर ने जांच-पड़ताल कर बैग उसके मालिक को सौंप दिया।

दरियागंज में व्यापारी से लूटपाट : दरियागंज इलाके में आॅटो पार्ट्स के एक व्यापारी को हथियार की बट से घायल कर लूट लिया गया। शास्त्री पार्क में रहने वाले विशाल खुराना की करोलबाग में दुकान है। रात पौने नौ बजे वे दुकान बंदकर घर जा रहे थे तभी रिंग रोड शक्तिस्थल के पास बदमाशों ने उनकी स्कूटी में टक्कर मार दी और हथियार की बट से उन्हें मारकर लूटपाट कर फरार हो गए। खुराना के पास 70 हजार रुपए थे। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

पुलिसकर्मी की हत्या का खुलासा : दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने छावला में दिल्ली पुलिस के रिटायर हवलदार हरिकिशन की हत्या सहित दो अन्य हत्याकांड का खुलासा कर लिया है। इस मामले में गैंगस्टर कपिल सांगवान उर्फ नंदू गिरोह के शातिर संदीप उर्फ काले को गिरफ्तार किया गया है। बदला लेने के इरादे से हुई इस वारदात को सुलझाना दिल्ली पुलिस के लिए चुनौती थी। शाखा के संयुक्त आयुक्त ने यह जानकारी दी।

बम की अफवाह : इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन पर सोमवार को बम की सूचना से कुछ देर के लिए सुरक्षाकर्मियों के हाथ-पांव फूल गए। सूचना पर तुरंत बम निरोधक दस्ता, श्वान दस्ता और पुलिस मौके पर पहुंची। चप्पे-चप्पे की जांच के बाद सूचना को अफवाह बताया गया। सूत्रों के मुताबिक सोमवार दोपहर मिली इस सूचना को पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए फोन करने वालों की पहचान शुरू कर दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App