ताज़ा खबर
 

चोरी और लूट के लिए बनाया 100 लोगों का गिरोह

शहर में लगातार गाड़ियों से लैपटॉप समेत अन्य कीमती सामान उड़ाने वाले एक त्गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। पुलिस के अनुसार यह गिरोह दक्षिण भारतीय गिरोह लोगों का है।

Author नोएडा | November 17, 2017 6:30 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

शहर में लगातार गाड़ियों से लैपटॉप समेत अन्य कीमती सामान उड़ाने वाले एक त्गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। पुलिस के अनुसार यह गिरोह दक्षिण भारतीय गिरोह लोगों का है। थाना सेक्टर- 58 पुलिस ने गिरोह के 2 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार गिरोह के सदस्य तामिलनाडू, कर्नाटक और आंध्रप्रदेश के रहने वाले हैं। जो दिल्ली के मदनगीर इलाके में कई सालों से रह कर वारदात को अंजाम दे रहे हैं। इस गिरोह के सदस्यों की संख्या करीब 100 बताई जा रही है।

आरोपी दिल्ली, गाजियाबाद और नोएडा समेत अन्य शहरों में रोजाना दर्जनों वारदातों को अंजाम देते रहे हैं। उनके पास से चोरी की सेंट्रो कार, मोटरसाइकिल, 4 मोबाइल, व चोरी अन्य सामान और नकदी बरामद किया गया है। एसपी सिटी अरुण सिंह ने बताया कि बुधवार शाम को सेक्टर- 62 इलाके में जांच के दौरान संजय उर्फ विशाल और विनेश को चोरी की मोटर साइकिल और लैपटॉप के साथ पकड़ा गया। पूछताछ में पता चला कि ये लोग गाड़ियों से सामान चोरी करते हैं। संजय मूल रूप से तामिलनाडू का रहने वाला है। जबकि विनेश आंध्रप्रदेश का रहने वाला है।

पूछताछ में दोनों ने बड़ा खुलासा करते हुए यह जानकारी दी कि भारत के दक्षिणी हिस्से से आए बहुत सारे लोग मदनगीर इलाके में रहते हैं। इनमें से काफी लोग पिछले कई सालों से इसी प्रकार चोरी के धंधे में लगे हैं। गिरोह के सरगना का नाम इंद्रजीत है। जिसके नीचे विशाल, डेविड, दीपक और पवन काम करते हैं। मदनगीर में इंद्रजीत के नीचे करीब 100 बदमाश इसी धंधे में लगे हैं। तीन बदमाशों के एक ग्रुप को डेरा बोलते हैं। चोरी की मोटरसाइकिल पर सवार होकर रोजाना दिल्ली, गाजियाबाद और नोएडा आते हैं और अलग-अलग इलाकों में 3-4 वारदातें कर वापस लौट जाते हैं। चोरी का सामान इंद्रजीत गफ्फार मार्केट या उसके आसपास के बाजारों में खपाता है। इंद्रजीत ने गिरोह के बदमाशों को पुलिस और कोर्ट से छुड़ाने के लिए वकील भी रखे हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App