ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली: 95 वर्ष की सास को बहू ने बना रखा था बंधक, ‘असहाय’ बेटे ने महिला आयोग से लगाई गुहार तब हो सकी मुक्त

पीड़िता के बेटे ने आयोग को बताया कि उसकी बूढ़ी मां को उसकी पत्नी और ससुराल वालों ने बंधक बनाकर रखा हुआ है। व्यक्ति ने अपनी शिकायत में ये भी कहा कि उसकी मां काफी बूढ़ी हैं और बिस्तर से उठ नहीं सकती हैं।

दिल्ली महिला आयोग ने पीड़ित महिला को छुड़ाया। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

देश की राजधानी दिल्ली में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। दरअसल दिल्ली में एक बहु ने अपनी 95 वर्षीय सास को बंधक बनाकर रखा हुआ था। पीड़ित महिला के बेटे ने दिल्ली कमीशन फॉर वूमेन से मामले की शिकायत की। जिसके बाद आयोग की टीम ने मौके पर जाकर बुजुर्ग महिला को बहु और उसके परिजनों के चंगुल से छुड़ाया। फिलहाल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। खबर के अनुसार, बुजुर्ग महिला के बेटे ने ही दिल्ली कमीशन फॉर वूमेन के हेल्पलाइन नंबर पर मामले की सूचना दी थी।

पीड़िता के बेटे ने आयोग को बताया कि उसकी बूढ़ी मां को उसकी पत्नी और ससुराल वालों ने बंधक बनाकर रखा हुआ है। व्यक्ति ने अपनी शिकायत में ये भी कहा कि उसकी मां काफी बूढ़ी हैं और बिस्तर से उठ नहीं सकती हैं। व्यक्ति ने बताया कि उसके और उसकी पत्नी के बीच में शादी के बाद से ही संबंध खराब चल रहे हैं और पिछले 3 महीने से उसने अपनी मां को नहीं देखा है। पीड़िता के बेटे ने कहा कि जब भी वह अपनी मां से मिलने की कोशिश करता है तो उसे स्थानीय पुलिस की मदद लेनी पड़ती है। क्योंकि उसकी पत्नी उसे घर में घुसने ही नहीं देती।

वहीं शिकायत मिलने के बाद दिल्ली महिला आयोग की एक टीम मौके पर पहुंची। लेकिन आरोपी महिला ने सिर्फ एक शर्त पर आयोग की टीम को घर में घुसने की इजाजत दी कि उसका पति फिर कभी उसके घर नहीं आएगा। इसके बाद महिला के पति ने लिखित में आश्वासन दिया और फिर आयोग की टीम पीड़ित बुजुर्ग महिला से मिल सकी। जब आयोग की टीम ने महिला को देखा तो वह काफी बीमार और कमजोर हालत में थी। इसके बाद आयोग की टीम ने एंबुलेंस को फोन कर बुलाया और पीड़िता महिला को अस्पताल में भर्ती कराया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App