कश्मीर: आईजी ने कहा- उत्तरी कश्मीर में LoC पर 90 आतंकी घुसपैठ के लिए तैयार हैं लेकिन सेना कर रही उसे नाकाम- 90 militants active in north Kashmir: IGP - Jansatta
ताज़ा खबर
 

कश्मीर: आईजी ने कहा- उत्तरी कश्मीर में LoC पर 90 आतंकी घुसपैठ के लिए तैयार हैं लेकिन सेना कर रही उसे नाकाम

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक मुनीर खान ने आज कहा कि उत्तर कश्मीर में तकरीबन 90 उग्रवादी सरगर्म हैं और सेना नियंत्रण रेखा से घुसपैठ की चुनौती का सामना करने के लिए तैयार है।

Author श्रीनगर | May 23, 2017 4:12 PM
(file Photo)

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक मुनीर खान ने आज कहा कि उत्तर कश्मीर में तकरीबन 90 उग्रवादी सरगर्म हैं और सेना नियंत्रण रेखा से घुसपैठ की चुनौती का सामना करने के लिए तैयार है। खान ने यहां से 52 किलोमीटर दूर सोपोर में पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘‘हमारे पास रिपोर्टें हैं कि घुसपैठ की कोशिशें हो रही हैं, लेकिन हमारे पास ऐसी रिपोर्ट नहीं है कि घुसपैठ बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि बारामुला घुसपैठ का पारंपरिक मार्ग रहा है। मुझे आपको यह बताते हुए खुशी है कि वहां हमारी सेना उसका सामना करने के लिए तैयार है और वह सामना कर रही है। खान ने कहा कि नौगाम सेक्टर में पिछले महीने घुसपैठ की कोशिश नाकाम की गई है। वहां चार उग्रवादियों को मार गिराया गया है।
उन्होंने कहा कि इसी तरह उसी सेक्टर में कुछ अन्य जगहों पर घुसपैठ की कोशिशें नाकाम की गई हैं।

बता दें कि हाल भारतीय सेना के मेजर जनरल अशोक नरूला ने मंगलवार (23 मई) को कहा कि भारतीय सेना द्वारा हाल ही में नौशेरा में की गई कार्रवाई से पाकिस्तानी सैन्य चौकियों को भी नुकसान पहुंचा है। मेजर जनरल मेहता के अनुसार भारतीय सेना ने 20 और 21 मई को नौशेरा में कार्रवाई की थी। मेजर जनरल नरूला ने यह भी कहा कि गर्मी का कारण बर्फ पिघलने और दर्रों के खुलने से जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ बढ़ने की आशंका है। मीडिया को संबोधित करते हुए मेजर जनरल नरूला ने

भारतीय सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल नरूला ने कहा कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारत की स्थिति पाकिस्तान की तुलना में मजबूत है। मेजर जनरल नरूला ने कहा कि भारत नियंत्रण रेखा पर शांति और सौहाद्र चाहता है। मेजर जनरल नरूला ने कहा कि पाकिस्तानी सेना हथियारबंद घुसपैठियो को कश्मीर में घुसने में मदद कर रही है। मेजर जनरल नरूला ने बताया कि भारतीय सेना एलओसी के आसपास दंडात्मक कार्रवाई कर रही है।

मेजर जनरल नरूला ने कहा, “…पाकिस्तानी सेना कई बार मासूम गांववालों पर गोलीबारी से भी बाज नहीं आती।” मेजर जनरल नरूला ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में ऐसी घटनाओं पर लगाम लगाने की जरूरत है ताकि स्थानीय युवक इनसे प्रभावित न हों। 21 मई को भारतीय सेना ने नौगाम सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश विफल कर दी थी और चार आतंकवादियों को मार गिराया था। मुठभेड़ में भारतीय सेना के दो जवान भी मारे गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App