ताज़ा खबर
 

Uttar Pradesh: टेंपो और ट्रक की टक्कर से हुआ बड़ा हादसा, शिक्षक समेत 8 लोगों की मौके पर ही मौत

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में एक ट्रक और टेंपो में जबरदस्त टक्कर से 8 लोगों की मौके पर ही मौत होने की बात सामने आई है। बता दें कि इस हादसे में तीन लोगों के घायल होने की भी खबर है।

Author औरैया | Updated: July 6, 2019 6:38 PM
प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में एक दर्दनाक हादसे में पांच शिक्षकों समेत आठ लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि यह हादसा ट्रक और टेंपो की टक्कर के कारण हुआ है। वहीं इस हादसे में तीन अन्य लोग भी जख्मी हुए हैं। बता दें कि यह घटना सहायल क्षेत्र में शनिवार (06 जूलाई) की सुबह में घटी है। वहीं इस हादसे के बाद मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों ने गंभीर रूप से घायल लोगों को पास के अस्पतालों में भर्ती भी करवाया है।

ओवर टेक करने में हुई टक्करः पुलिस अधीक्षक सुनीति के अनुसार यह घटना शनिवार (06 जुलाई) की सुबह करीब साढ़े छह बजे दिबियापुर बेला मार्ग पर हुई है। इस मार्ग पर जा रहे एक टेंपो ने पास एक वाहन से आगे निकलने की कोशिश की थी। इस बीच सामने से आ रहे एक ट्रक से टेंपों की सीधी टक्कर हो गई। बताया जा रहा है कि टक्कर इतनी तेज थी कि घटनास्थल पर ही चीख पुकार मच गई थी।

National Hindi News, 06 July 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

Bihar News Today, 06 July 2019: बिहार से जुड़ी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

टक्कर से टेंपो के परखच्चे उड़ेः पुलिस अधीक्षक ने बताया कि टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि टेंपो के परखच्चे तक उड़ गए और टेंपो में सवार आठ लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। बताया जा रहा है कि इस हादसे में 5 शिक्षकों की मौके पर ही मौत हो गई। सुनीति ने बताया कि इस हादसे में गंभीर रूप से घायल तीन लोगों को अस्पताल में भर्ती भी किया गया है। वहीं इसके बाद शवों की शिनाख्त भी जारी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Kanpur: सिपाही का वीडियो हुआ वायरल, बाेला- इस चौकी में जुआ-सट्टा सब जायज, हर महीने होती है लाखों की कमाई
2 Pune: व्रत तोड़ने के लिए मंगाया पनीर बटर मसाला, Zomato ने भेजा बटर चिकन; लगा 55 हजार का जुर्माना
3 किडनैपिंग के बढ़ते मामलों पर डीजीपी का तर्क- लड़कियां अब पहले से ज्यादा स्वतंत्र