ताज़ा खबर
 

Punjab: गोल्ड चेन पहने 65 वर्षीय महिला को मृत बताकर फ्रीजर में रखा शव, कुछ देर बाद चलने लगी सासें

पंजाब के एक प्राइवेट अस्पताल में डॉक्टर्स ने एक महिला को मृत बताकर उसे मोर्चरी के फ्रीजर में रखवा दिया। लेकिन जब बाद में परिजनों ने फ्रीजर को ओपन किया तो महिला की सांसे चल रही थीं।

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

पंजाब में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जिसमें डॉक्टर्स की लापरवाही की बात भी कही जा रही है। दरअसल प्रदेश में कपूरथला के एक प्राइवेट अस्पताल में डॉक्टर्स ने मंगलवार (14 मई) 65 वर्षीय महिला को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद महिला को मोर्चरी के फ्रीजर में रख दिया। लेकिन मामले में ट्विस्ट तब आया जब डॉक्टर्स द्वारा मृत घोषित की हई महिला को जिंदा हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मामला तब सामने आया जब मृतक महिला के परिजनों को याद आया कि महिला के गले में सोने की चेन रह गई है।

मृतक महिला जिंदा है: दरअसल मामले का खुलासा तब हुआ जब मृतक महिला के परिजनों को याद आया कि महिला के गले में सोने की एक चेन रह गई है। इसके बाद परिजन जब वापस अस्पताल के मोर्चरी के फ्रीजर के पहुंचे और दरवाजा खोला तो देखा कि महिला की सांस चल रही है।

National Hindi News, 16 May 2019 LIVE Updates: जानें दिनभर की हर खबर सिर्फ एक क्लिक में

महिला को पिलाया पानी: जैसे ही परिजनों ने देखा कि बुजुर्ग महिला जिंदा है तो परिजन घबरा गए। लेकिन खुद पर काबू पाते हुए परिजनों ने महिला को फ्रीजर से बाहर निकाला और डॉक्टर को सूचना दी। डॉक्टर ने तुरंत महिला के आखों की पट्टी हटाई और महिला के आंखों पर पानी छिड़का। जिसके बाद महिला ने आखें खोलीं।वहीं परिजनों ने महिला को तुरंत पानी पिलाया और महिला को अपने साथ घर ले गए।

महिला की फिर तबीयत बिगड़ी: बुजुर्ग महिला के परिजन उसे अस्पताल से वापस घर ले गए, लेकिन घर पहुंचने के साथ ही महिला की तबीयत फिर बिगड़ने लगी और महिला को कपूरथला सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां बुधवार (15 मई) को उनकी मौत हो गई।

 

पुलिस का क्या है कहना: इस पूरे मामले पर काला संघाई पुलिस का कहना है कि उनके पास ऐसा कोई भी मामला नहीं आया है। अगर प्राइवेट अस्पताल के खिलाफ कोई मामला आएग तो जरूर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही डीएसपी हरजिंदर सिंह गिल ने कहा कि आधिकारिक तौर पर हमारे पास ऐसी कोई जानकारी नहीं आई है लेकिन शहर में बातें जारी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App