ताज़ा खबर
 

Gujarat: जूनागढ़ में ढहा 60 फुट लंबा 40 साल पुराना पुल, सड़क पर चलती गाड़ियों पर गिरा मलबा, 4 घायल

गुजरात के जूनागढ़ जिले में पुल का स्लैब गिरने से मलबे के नीचे कुछ वाहन दब गए। इससे यातायात भी बाधित हुआ। जानकारी के मुताबिक 40 साल पहले मलांका गांव के पास बनाया गया था।

Author जूनागढ़ | Published on: October 7, 2019 5:29 PM
गुजरात में 60 फुट लंबा पुल ढहा फोटो सोर्स- ANI

गुजरात के जूनागढ़ जिले में 60 फुट लंबे एक पुल के ढह जाने से चार लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने सोमवार ( 7 अक्टूबर) को यह जानकारी दी। जूनागढ़ के कलेक्टर सौरभ पारधी ने बताया कि रविवार ( 6 अक्टूबर) की शाम को मलांका गांव के पास पुल का स्लैब गिरने से कुछ वाहन उसके मलबे के नीचे दब गए थे। इससे इलाके में यातायात भी बाधित हुआ।

पुल ढहने आईं मामूली चोटेंः उन्होंने कहा कि यह पुल सासन-गिर को जूनागढ़ के महेंद्रा कस्बे से जोड़ता है। सासन-गिर में वन्यजीव अभयारण्य स्थित है। यह पुल करीब 40 साल पहले मलांका गांव के पास बना था। पारधी ने कहा, ‘‘रविवार को पुल ढहने से चार लोगों को मामूली चोट आई है।’’
National Hindi News, 7 October 2019 Top Headlines LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक
वाहनों की आवाजाही हुई बाधितः पुल ढहने से सासन-गिर और महेंद्रा के बीच वाहनों की आवाजाही बाधित हुई है। कलेक्टर ने कहा कि यात्रियों के लिए एक वैकल्पिक मार्ग खोला गया है। उन्होंने कहा कि दो कार और तीन दो पहिया वाहन पुल के मलबे में दब गए थे जिन्हें बाद में निकाला गया था।

इससे पहले मध्य प्रदेश के सिंगरौली के ऊर्जाधनी में भारी बारिश के चलते सिंगरौली नेशनल हाईवे का पुल टूट गया था। जिसकी वजह से यातायात का आवागमन काफी बाधित हुआ था। पुल के टूटने का कारण निर्माण में घटिया सामान का इस्तेमाल करना बताया गया। जानकारी के मुताबिक पुल का निर्माण कार्य कुछ ही समय पहला पूरा हुआ था। इसके टूटने से देवसर सहित आसपास के कई इलाके प्रभावित हुए थे। पुल टूटने के बाद स्थानीय ग्रामीणों ने जल्द से जल्द पुल के निर्माण कराने के लिए प्रशासन से गुहार लगाई। जानकारी के मुताबिक पुल टूटने से भारी वाहन चालकों को सबसे ज्यादा मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ‘कश्मीरियों की जिंदगी से बड़े हैं आरे के पेड़’, SC के फैसले के बाद महबूबा ने ट्वीट कर उठाया ये सवाल
2 Aarey Protest: सुप्रीम कोर्ट ने 29 प्रदर्शनकारियों को रिहा किया, अगली सुनवाई तक पेड़ काटने पर लगाई गई रोक