ताज़ा खबर
 

रक्षाबंधन पर त्रिपुरा के 6 तृणमूल विधायक ममता बनर्जी से तोड़ेंगे रिश्ता, बीजेपी में होंगे शामिल

पश्चिम बंगाल में 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में वाम मोर्चा के साथ गठबंधन के विरोध में इन विधायकों ने कांग्रेस छोड़कर तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया था।

Author August 5, 2017 8:51 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर

तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा बर्खास्त किए गए पार्टी की त्रिपुरा इकाई के छह विधायक सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होंगे। असम सरकार में मंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने शनिवार को यह जानकारी दी। इनमें से सुदीप रॉय बर्मन, आशीष कुमार साहा, दिबा चंद्र रांगखॉल, बिस्व बंधु सेन और प्राणजीत सिंह रॉय ने शनिवार को दिल्ली में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की। एक विधायक दिलीप सरकार बीमार हैं और अगरतला में हैं।

अमित शाह के साथ बैठक के बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सरमा ने पत्रकारों को बताया, “तृणमूल के ये छह पूर्व विधायक सोमवार को अगरतला में केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान, पार्टी महासचिव राम माधव और अन्य नेताओं की उपस्थिति में भाजपा में शामिल होंगे।” पश्चिम बंगाल में 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में वाम मोर्चा के साथ गठबंधन के विरोध में इन विधायकों ने कांग्रेस छोड़कर तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया था।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Ice Blue)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback
  • Honor 8 32GB Pearl White
    ₹ 12999 MRP ₹ 30999 -58%
    ₹1500 Cashback

तृणमूल के महासचिव और पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्था चटर्जी ने तीन जुलाई को कोलकाता में कहा था कि त्रिपुरा के छह विधायकों से पार्टी का कोई संबंध नहीं है। वहीं त्रिपुरा विधानसभा के उपाध्यक्ष पबित्र कार के अनुसार, ये छह विधायक अभी तृणमूल विधायक ही हैं। सुदीप रॉय बर्मन के नेतृत्व में इन विधायकों और कांग्रेस के बागी विधायक रतनलाल नाथ ने 17 जुलाई को हुए राष्ट्रपति चुनाव में राजग के उम्मीदवार रामानाथ कोविंद के पक्ष में मतदान किया था।

भाजपा के एक नेता ने पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर बताया कि भाजपा के नेतृत्व वाली पूर्वोत्तर डेमोक्रेटिक अलायंस के संयोजक सरमा की कोशिशों से ये विधायक भाजपा में शामिल हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि रतनलाल नाथ भी जल्द ही भाजपा में शामिल होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App