ताज़ा खबर
 

हिरासत में युवक की मौत, 5 पुलिसकर्मी दोषी, कोर्ट ने कहा- सबूतों से छेड़छाड़ को अधिकार समझती है पुलिस

दिल्ली की एक अदालत ने 26 साल के एक युवक की पुलिस हिरासत में मौत होने पर पांच पुलिसकर्मियों को दोषी करार दिया है। साथ ही उन्हें फटकार भी लगाई।

court orderपुलिस हिरासत में युवक की मौत पर पांच पुलिसकर्मी दोषी करार फोटो सोर्सः फाइनेंशियल एक्सप्रेस

दिल्ली की एक अदालत ने 26 साल के एक युवक की हिरासत में हुई मौत के मामले में उत्तर प्रदेश के पांच पुलिसकर्मियों को दोषी करार दिया है। अदालत ने इस संबंध में बड़ी टिप्पणी करते हुए कहा कि पुलिस समझती है कि उसे सबूतों से छेड़छाड़ करने का अधिकार है और उसे जवाबदेह नहीं ठहराया जाएगा। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संजीव कुमार मल्होत्रा ने कहा कि हिरासत में मौत की एक वजह यह थी कि पुलिस को पूरा यकीन था कि हिरासत में मौत हो जाने और सच का पता चल जाने पर भी उसे जवाबदेह नहीं ठहराया जाएगा। अदालत ने उत्तर प्रदेश पुलिस के सब-इंस्पेक्टरों हिंदवीर सिंह और महेश मिश्रा, कॉन्स्टेबल प्रदीप, पुष्पेंद्र और हरिपाल सिंह को दोषी करार दिया।

कोर्ट ने इन पुलिसकर्मियों को पीड़ित सोनू के अपहरण, साक्ष्य के बाबत गुमराह करने, जनरल डायरी में गलत रिपोर्ट करने और उसे यातना देने के आरोपों के चलते सोनू की मौत के मामले में दोषी करार दिया। इन पुलिसकर्मियों पर हत्या के आरोप में भी मुकदमा चला। बता दें पुलिस कस्टडी में मारे गए सोनू को लूटपाट के एक केस में संदिग्ध समझकर पकड़ा गया था।

स्टेशन अफसर और जीडी राइटर पर भी होगी कार्रवाईः अदालत ने उत्तर प्रदेश के डीजीपी को निर्देश दिया कि वह इंस्पेक्टर दीपक चतुर्वेदी और कॉन्स्टेबल मनोज कुमार के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के लिए उचित कदम उठाएं। दीपक और मनोज घटना के दिन ‘स्टेशन अफसर’ और ‘जीडी राइटर’ के तौर पर तैनात थे। उन पर आरोप है कि उन्होंने आरोपियों से मिलीभगत कर जीडी रजिस्टर में गलत रिपोर्ट दर्ज की और साक्ष्य गायब करने में मदद की।

उच्चतम न्यायालय ने इस मामले की सुनवाई उत्तर प्रदेश की एक अदालत से दिल्ली की एक अदालत में स्थानांतरित कर दी थी। शीर्ष अदालत ने कहा था कि केस दर्ज होने के बाद जिस तरह से छानबीन की गई है, उससे साफ पता चलता है कि राज्य में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष सुनवाई संभव नहीं है, क्योंकि आरोपी पुलिस बल के सदस्य हैं।

Next Stories
1 Maharashtra: हिंगोली में रेलवे ट्रैक पर बैठकर पबजी खेल रहे थे दो युवक, दोनों की मौत
2 कैंची से वार कर पत्नी को मार डाला, फिर खुद कुएं में कूद गया
3 उम्र गलत बताकर फर्जीवाड़ा करने वालों की खैर नहीं, अब डॉक्टर पता लगा लेंगे सटीक आयु
ये पढ़ा क्या?
X