ताज़ा खबर
 

बाढ़ से तबाह केरल ने केंद्र सरकार से की 4,700 करोड़ रुपये की मांग

केरल सरकार ने हाल की बाढ़ के कारण जन,धन की भारी क्षति के मद्देनजर केंद्र से राहत के लिए 4,700 करोड़ रुपये की मांग की है।

Author September 14, 2018 12:45 PM
केरल ने केंद्र से मांगी मदद (Photo: AP)

केरल सरकार ने हाल की बाढ़ के कारण जन,धन की भारी क्षति के मद्देनजर केंद्र से राहत के लिए 4,700 करोड़ रुपये की मांग की है। अधिकारी ने कहा कि इस बाढ़ को राज्य में सदी की सबसे बुरी बाढ़ करार दिया गया है। बाढ़ से प्रदेश के 14 जिले प्रभावित हुए हैं और कम से कम 488 लोगों की मृत्यु हुई है। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा कि केरल सरकार ने गृह मंत्रालय को एक ज्ञापन भेजा है जिसमें जन-धन, बुनियादी ढांचे और फसलों के नुकसान की जानकारी दी गयी है और तत्काल राहत के लिए 4,700 करोड़ रुपये की मांग की गई है। किसी प्रदेश की उसके निपटने की क्षमता से परे किसी भी प्राकृतिक आपदा के मामले में, राज्य सरकार एक विस्तृत ज्ञापन प्रस्तुत करती है जिसमें तत्काल प्रकृति के राहत कार्यों के लिए क्षेत्रवार ब्यौरा सहित धन की आवश्यकता का विवरण होता है।

अधिकारी ने कहा कि इसी के अनुरूप केरल सरकार ने ज्ञापन भेजा है। मौजूदा दिशानिर्देशों के मुताबिक, केंद्र सरकार जल्द ही क्षतिपूर्ति और धन की अतिरिक्त आवश्यकता के प्रभावित स्थल पर आकलन के लिए अंतर-मंत्रालयी केंद्रीय टीम (आईएमसीटी) भेज देगी। आईएमसीटी की रिपोर्ट मानदंडों के अनुरूप केंद्रीय गृह सचिव की अध्यक्षता में राष्ट्रीय कार्यकारी समिति (एससी-एनईसी) की उप समिति द्वारा विचार किया जाएगा और उसके बाद एनडीआरएफ से अतिरिक्त सहायता की मंजूर करने के लिए गृह मंत्री की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय समिति द्वारा विचार किया जायेगा।

किसी भी अधिसूचित आपदा घटना के दौरान बचाव और राहत व्यय को पूरा करने के लिए वित्तीय तंत्र राज्य आपदा प्रतिक्रिया निधि (एसडीआरएफ) और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया निधि (एनडीआरएफ) के दिशानिर्देशों के अनुरूप किया जाता है। प्रत्येक राज्य में राज्य आपदा प्रतिक्रिया निधि गठित की गई है जिसमें केंद्र की ओर से हर साल निरतंर वित्त आयोग के अवार्ड के अनुसार सामान्य श्रेणी के राज्यों के लिए 75 प्रतिशत और पहाड़ी क्षेत्रों के विशेष श्रेणी राज्यों के लिए 90 प्रतिशत का योगदान दिया जाता है।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राज्य के अपने अपने दौरे के समय सहायता की घोषणा की थी। इसके अनुरूप 21 अगस्त को, केंद्र सरकार ने 600 करोड़ रुपये जारी किये। मोदी ने 500 करोड़ रुपये और राजनाथ ंिसह ने 100 करोड़ रुपये देने का वायदा किया था। यह मदद राज्य के प्रदेश आपदा राहत निधि में पहले से उपलब्ध कराए गए 562.45 करोड़ रुपये के अतिरिक्त है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App