ताज़ा खबर
 

रायपुर के कोरोना अस्पताल में लगी आग, 4 मरीजों की मौत

रायपुर के एक अस्पताल में शार्ट सर्किट से आग लग गई। जिसके चलते आईसीयू में भर्ती चार मरीजों की मौत हो गई। अस्पताल में करीब 50 कोरोना संक्रमित मरीज भर्ती थे।

covid 19,coronavirus, fire breaks out, Chhattisgarh, raipur, 4 dead, jansattaतस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (express file)

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक अस्पताल में शार्ट सर्किट के चलते भीषण आग लग गई है। जिसके चले आईसीयू में भर्ती चार मरीजों की दम घुटने से मौत हो गई। रायपुर के पचपेड़ी नाका स्थित राजधानी अस्पताल में करीब 50 कोरोना संक्रमित मरीज भर्ती थे।

फायर ब्रिगेड की टीम आने के बाद आग पर काबू पाया गया। रेस्क्यू किए गए बाकी मरीजों को शहर के अलग-अलग अस्पतालों में शिफ्ट किया गया है। अस्पताल में आग लगने का कारण पंखे में हुआ शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। आग की वजह से अस्पताल के सभी कमरों में धुआं भर गया। इसके चलते यहां भर्ती मरीजों का दम घुटने लगा। परिजनों ने हॉस्पिटल में लगे कांच को तोड़कर धुआं बाहर निकलने की जगह बनाई।

घटना के वक्त आईसीयू में 9 मरीज थे। आग लगने के बाद मरीजों को अस्पताल से निकाला गया और दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया। इस हादसे में 40 से ज्यादा मरीज प्रभावित हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शुरुआत में अस्पताल प्रबंधन ने आग को लेकर गंभीरता नहीं दिखाई और इसने भीषण रूप ले लिया।

इससे पहले मुंबई के भांडुप में स्थित एक कोविड अस्पताल में भी आग लग गई थी। आग से दस लोगों की मौत हुई थी। अस्पताल एक मॉल के इलाके में बना हुआ था, जिसमें करीब एक हजार से अधिक दुकानें मौजूद हैं। जब इस अस्पताल में आग लगी, तब यहां 70 से अधिक कोरोना वायरस के मरीज भर्ती थे। हादसे के बाद उन्हें किसी अन्य अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है।

Next Stories
1 ज़मानत मिलते ही फिर गिरफ्तार हो गया दीप सिद्धू, दूसरे मामले में दिल्ली पुलिस ने धरा
2 मोदी की रैलियों का सवाल? बंगाल में तीन चरणों के मतदान एक दिन में नहीं चाहती थी भाजपा, TMC की मांग का EC के सामने किया विरोध
3 7th Pay Commission: हुआ फायदा! इस क्षेत्र में तैनात अफसरों के लिए केंद्र ने बढ़ाया ‘विशेष भत्ता’
ये पढ़ा क्या?
X