ताज़ा खबर
 

गुजरात के एक गांव में दो समुदायों में झगड़े के बाद तनाव, पुलिसफोर्स तैनात

पुलिस ने बताया कि गुरुवार रात (26 मई) को ईराल गांव से एक बारात जा रही थी। उसमें एक गाना बजाया जा रहा था जिसपर वहां रहने वाले लोगों ने आपत्ति जताई। बावजूद इसके गाने को बंद नहीं किया गया और उसे बार-बार चलाया जाने लगा।

,2002 के दंगों में 790 मुस्लिम जबकि 254 हिंदुओं की मौत हुई थी। 223 लोग लापता बताए गए, जबकि 2500 से ज्यादा लोग लापता थे। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

गुजरात के पंचमहाल में दो समुदायों के बीच झगड़े के बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। इसके बाद वहां पुलिस तैनात करनी पड़ी है। मामला ईराल गांव के शेख फलिया इलाके का है। पुलिस ने बताया कि गुरुवार रात (26 मई) को ईराल गांव से एक बारात जा रही थी। उसमें एक गाना बजाया जा रहा था जिसपर वहां रहने वाले लोगों ने आपत्ति जताई। बावजूद इसके गाने को बंद नहीं किया गया और उसे बार-बार चलाया जाने लगा।

इसके बाद वहां रहने वाले लोगों में से तकरीबन 12 लोग बारात में घुसकर झगड़ा करने लगे। इसके बाद मामला हिंसक हो गया। फिर पुलिस के आने पर लोगों को शांत किया जा सका।

विजलपुर थाने के इंस्पेक्टर सहदेवसिंह पड्हेरिया ने बताया कि उन्होंने दोनों समुदायों के 22 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। सहदेव ने बताया कि इलाके में शांति बनाए रखने के लिए 15 पुलिसवालों की तैनाती भी की गई है।

ईराल वही इलाका है जहां पर गोधरा कांड के बाद एक मुस्लिम परिवार के 8 लोगों को मारकर, दो महिलाओं के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया था। उस वक्त कोर्ट ने इसके आरोप में 8 लोगों को सजा सुनाई थी। इस घटना के बाद मुस्लिम लोग कई साल तक इस इलाके में रहने नहीं आए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App