ताज़ा खबर
 

West Bengal: हाईवोल्टेज बिजली के तार की चपेट में आए 3 हाथियों की मौत, DFO ने दिए जांच के आदेश

झारग्राम के मंडल वन अधिकारी बासवराज ने बताया कि 20 हाथियों का झुंड बीनपुर पुलिस थाने के तहत आने वाले सतबाकी इलाके से गुजर रहा था कि इसी दौरान तीन हाथी बिजली की तार के संपर्क में आ गए।

Author कोलकाता | July 11, 2019 1:30 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर फोटो सोर्स- जनसत्ता

देशभर में मॉनसून का सीजन आते ही आंधी-तूफान और बारिश के चलते बिजली के तारों की चपेट में आने इंसानों और मवेशियों की मौत के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। इसी बीच पश्चिम बंगाल में भी बुधवार (10 जुलाई) को तीन हाथियों की मौत का मामला सामने आया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक राज्य के झारग्राम जिले में बुधवार तड़के हाई वोल्टेज वाले बिजली के तार के संपर्क में आने के बाद 3 हाथियों की मौत हो गई।

डीएफओ ने दिये जांच के अधिकारीः झारग्राम के मंडल वन अधिकारी बासवराज ने बताया कि 20 हाथियों का झुंड बीनपुर पुलिस थाने के तहत आने वाले सतबाकी इलाके से गुजर रहा था कि इसी दौरान तीन हाथी बिजली की तार के संपर्क में आ गए। तीन हाथियों के शवों को गांव वालों ने सुबह देखा और उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को सूचित किया। मौके पर पहुंचे डीएफओ ने बताया कि घटना की जांच के आदेश दिए गए हैं। इन इलाकों में अक्सर हाथियों समेत कई जंगली जानवर झुंड में विचरण करने निकलते हैं।

वन विभाग ने लगाया सेंसर बेस्ड अलार्मिंग सिस्टमः पशुओं के मनुष्य के आबादी वाले स्थानों में जाने की घटनाओं को रोकने के लिए वन विभाग ने रविवार (7 जुलाई) को कहा था कि उसने जलपाईगुड़ी जिले में राष्ट्रीय उद्यान में सेंसर-आधारित चेतावनी प्रणाली लगाई है। बता दें कि इन जंगली इलाकों में अक्सर पशु ट्रेनों, बिजली के तारों या अन्य अप्राकृतिक कारणों के चलते जान गंवा देते हैं। इस हादसे ने एक बार फिर वन विभाग के लिए नए सिरे से चुनौतियां पेश कर दी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App