ताज़ा खबर
 

छात्रों को नहीं मिले प्रवेश पत्र, परीक्षा आज

मंगलवार को 10वीं कक्षा का हिंदी का पेपर है। प्रवेश पत्र नहीं मिलने पर परीक्षा छूट जाएगी। स्कूल प्रबंधन से संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर छात्र अपने अभिभावकों के साथ डीएम और एसएसपी दफ्तर पहुंचे।

Author March 6, 2018 4:05 AM
(File PHOTO)

ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित चिंपियाना गांव के उदय पब्लिक स्कूल के 10वीं कक्षा के 24 छात्रों को प्रवेश पत्र नहीं मिले हैं। मंगलवार को इन छात्रों की पहली परीक्षा है। प्रवेश पत्र के बगैर परीक्षा में बैठने नहीं दिया जाएगा। इसको लेकर सोमवार को छात्र अपने परिजनों के साथ डीएम और एसएसपी ऑफिस पहुंचे। स्कूल के प्रधानाचार्य ने दूसरे स्कूल से संबद्ध होने की बात कहकर दूसरे स्कूल प्रबंधन को इसके लिए जिम्मेदार बताया है। वहीं, डीएम ने जिला विद्यालय निरीक्षक को प्रकरण की जांच के आदेश दिए हैं। एसपी देहात सुनीति ने बिसरख थाना पुलिस को स्कूल प्रबंधन के खिलाफ मामला दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

चिंपियाना गांव के उदय पब्लिक स्कूल में पढ़ने वाले 10वीं कक्षा के 24 छात्र प्रवेश पत्र नहीं मिलने से परेशान हैं। मंगलवार को 10वीं कक्षा का हिंदी का पेपर है। प्रवेश पत्र नहीं मिलने पर परीक्षा छूट जाएगी। स्कूल प्रबंधन से संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर छात्र अपने अभिभावकों के साथ डीएम और एसएसपी दफ्तर पहुंचे। छात्रों का आरोप है कि स्कूल प्रबंधन ने पहले फीस जमा कराने का झांसा दिया था। फीस जमा करने के बाद भी प्रवेश पत्र नहीं दिए गए हैं। जिसको लेकर अभिभावकों को बच्चों के भविष्य की चिंता सता रही है।

HOT DEALS
  • Gionee X1 16GB Gold
    ₹ 8990 MRP ₹ 10349 -13%
    ₹1349 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹1485 Cashback

यदि प्रवेश पत्र नहीं मिले, तो दो साल बर्बाद हो जाएंगे। बताया गया है कि स्कूल प्रबंधन छात्रों को नौंवी कक्षा का भी परिणाम नहीं दे सकता है। स्कूल प्रबंधन ने बताया कि छात्रों को दूसरे स्कूल से संबद्ध कर रखा है। दूसरे स्कूल प्रबंधन की गलती से ऐसा हुआ है। प्रवेश पत्र दिलाने की कोशिशें की जा रही हैं। डीएम बीएन सिंह के आदेश पर जिला विद्यालय निरीक्षक ने जांच शुरू कर दी है। वहीं, एसपी देहात ने छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ के लिए स्कूल प्रबंधन की लापरवाही मानी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App