ताज़ा खबर
 

Delhi : कर्ज चुकाने के लिए पहले दोस्त का सिर कुचला, फिर गला रेता और लूटकर फरार हो गया

दक्षिण पूर्व दिल्ली के अमर कॉलोनी इलाके में एक 22 साल के बेरोजगार दोस्त ने कथित रुप से अपने दोस्त की हत्या कर दी। मृतक की पहचान अरशद अली के रूप में की गई जो कि गांधी कैंप का रहने वाला था।

तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फोटो सोर्स फाइनेंसियल एक्सप्रेस)

दक्षिण-पूर्व दिल्ली की अमर कॉलोनी में रेलवे ट्रैक के पास एक युवक की हत्या का मामला सामने आया है। वारदात को अंजाम देने का आरोप युवक के दोस्त पर ही है। बताया जा रहा है कि आरोपी ने पहले उसका सिर पत्थर से कुचला, फिर गला रेता और मोबाइल फोन व अन्य कीमती सामान लूटकर फरार हो गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने अपना कर्ज चुकाने के लिए इस वारदात को अंजाम दिया।

बेरोजगारी और कर्ज ने कराई वारदात : आरोपी फरमान ने बताया कि वह हल्द्वानी का रहने वाला है। वह काफी समय से बेरोजगार था और कर्ज में डूबा हुआ था। इस दौरान वह अपने दोस्त अरशद अली से मिला, जो गांधी कैंप में रहता था। फरमान ने अरशद के पास मोबाइल फोन व अन्य कीमती सामान देखा तो उसे कर्ज चुकाने का रास्ता नजर आने लगा।

ऐसे अंजाम दी वारदात : पूछताछ के दौरान फरमान ने पुलिस को बताया कि उसने सबसे पहले अपने दोस्त अरशद को शराब पिलाई। इसके बाद सबूत मिटाने के लिए उसने दोस्त का सिर पत्थर से कुचल दिया। वहीं, अरशद जिंदा न बच जाए, इस डर से गला भी रेत दिया।

यह सामान लेकर भागा आरोपी : फरमान ने बताया कि हत्या करने के बाद उसने अरशद का मोबाइल फोन निकाल लिया। वहीं, अन्य कीमती सामान भी ले गया। इसके बाद वह मौके से फरार हो गया।

 

10 जनवरी से लापता था अरशद : क्राइम टीम को रेलवे ट्रैक के पास अरशद की लाश मिली थी। जांच में पता चला कि वह 10 जनवरी से लापता था। उसे आखिरी बार फरमान के साथ देखा गया था। इसके बाद पुलिस ने अरशद के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की तो फरमान हत्थे चढ़ गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App