ताज़ा खबर
 

सिद्धारमैया बोले- बीजेपी राज में असुरक्षित हैं मुसलमान, गोधरा में मारे गए थे 2000 लोग

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आरोपों का पलटवार करते हुए सोमवार (5 फरवरी) को कहा कि बीजेपी के शासन में गोधरा में 2000 लोग मारे गए थे। हरियाणा में भी उनकी सरकार में कानून और व्यवस्था चौपट है।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया। (फोटो सोर्स- एएनआई)

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आरोपों का पलटवार करते हुए सोमवार (5 फरवरी) को कहा कि बीजेपी के शासन में गोधरा में 2000 लोग मारे गए थे। हरियाणा में भी उनकी सरकार में कानून और व्यवस्था चौपट है। जहां भी बीजेपी सत्ता में है, वहां अल्पसंख्यक सुरक्षित नहीं हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक सिद्धारमैया ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह हत्या के मामले में शामिल थे और वह केवल झूठ बोलते हैं। उन्होंने कहा कि वह कर्नाटक में भी ऐसा सीएम उम्मीदवार खड़ा कर रहे हैं जो जेल जा चुका है। सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झूठ बोलकर कन्नड़ जनता के मान को चोट पहुंचाई है। बता दें रविवार (4 फरवरी) को प्रधानमंत्री मोदी ने बेंगलुरु में आयोजित की गई बीजेपी की परिवर्तन रैली के समापन के मौके पर राज्य की सिद्धारमैया सरकार पर जमकर निशाना साधा था। पीएम मोदी ने सिद्धारमैया सरकार पर कमीशनखोरी का आरोप लगाते हुए कहा था कि ’10 प्रतिशत’ दिए बिना यहां कोई काम नहीं होता है।

पीएम मोदी ने कर्नाटक की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाया था। उन्होंने कहा था कि यहां ईज ऑफ मर्डर की चर्चा होती है। पीएम ने कहा था कि अब हर तरफ केसरिया लहर है और कर्नाटक में कांग्रेस एग्जिट गेट पर खड़ी है। बता दें कि कर्नाटक में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आते जा रहे हैं, वैसे ही नेताओं की बयानबाजियों का दौर भी जोर पकड़ता जा रहा है। राज्य में कांग्रेस और बीजेपी के बीच तीखी जुबानी जंग छिड़ी है। पहले भी सीएम सिद्धारमैया ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को उनके जेल जाने की याद दिलाई थी। उन्होंने कहा था कि अमित शाह और बीजेपी के सीएम उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा दोनों ही जेल जा चुके हैं। सिद्धारमैया अमित शाह की उस बात का जवाब दे रहे थे, जिसमें उन्होंने सिद्धारमैया को भ्रष्टाचार में लिप्त बताया था। पिछले दिनों अमित शाह ने कहा था कि भ्रष्टाचार का मतलब सिद्धारमैया और सिद्धारमैया का मतलब भ्रष्टाचार हो गया है।

सिद्धारमैया की उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ भी तीखी जुबानी जंग छिड़ चुकी है। सीएम योगी ने बेंगलुरु में पिछले दिनों बीजेपी की एक सभा में कहा था कि सिद्धारमैया खुद को हिन्दू कहते हैं, तो फिर वह गोमांस खाने वालों की वकालत क्यों करते है? इसके जवाब में सिद्धारमैया ने कहा था कि वह गायों ध्यान रखते हैं, क्या योगी आदित्यनाथ ने गायों का ध्यान रखा है? उन्होंने कहा था कि योगी आदित्यनाथ ने लोगों की खाने की आदत पर सवाल किया है। एक और ट्वीट में सिद्धारमैया ने कहा था कि हिंदू धर्म में कई लोग गोमांस खाते हैं, उन्होंने कहा था कि अगर वह गोमांस खाना चाहते हैं तो खाएंगे, लेकिन उन्हें गोमांस पसंद नहीं है, इसलिए नहीं खाते हैं। उन्होंने कहा था कि वह क्या खाएं और क्या न खाएं, यह बताने वाले योगी कौन होते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App