ताज़ा खबर
 

17th Lok Sabha session: शपथग्रहण के दौरान माननीयों से गलती, इन सांसद को दोबारा लेनी पड़ी शपथ

उत्तर प्रदेश के डुमरियागंज से निर्वाचित भाजपा सांसद जगदंबिका पाल ने एक बार शपथ लेने के बाद नवनिर्वाचित सदस्यों से संबंधित रजिस्टर पर हस्ताक्षर किए। इसी बीच लोकसभा सचिवालय के कर्मचारियों ने बताया कि उन्होंने शपथ लेने के दौरान कुछ शब्द गलत पढ़े थे।

Author June 18, 2019 3:23 PM
संसद में शपथ ग्रहण के दौरान कुछ सांसदों से हुई ऐसी गल्तियां

17th Lok Sabha session: सत्रहवीं लोकसभा के पहले सत्र में पिछले दो दिन से जहां नवनिर्वाचित सदस्यों के शपथ लेने का क्रम जारी है, वहीं सदन में कुछ ऐसे भी मामले देखने को मिले जब कुछ ‘‘माननीय’’ सदस्यों को दोबारा शपथ लेनी पड़ी। उत्तर प्रदेश के डुमरियागंज से निर्वाचित भाजपा सांसद जगदंबिका पाल ने एक बार शपथ लेने के बाद नवनिर्वाचित सदस्यों से संबंधित रजिस्टर पर हस्ताक्षर किए। इसी बीच लोकसभा सचिवालय के कर्मचारियों ने बताया कि उन्होंने शपथ लेने के दौरान कुछ शब्द गलत पढ़े थे। इसलिए उन्होंने फिर से शपथ ली। फिल्म अभिनेता एवं पंजाब के गुरदासपुर संसदीय क्षेत्र से निर्वाचित सनी देओल जब मंगलवार को अंग्रेजी में शपथ ले रहे थे तो उन्होंने ‘अपहोल्ड’ शब्द को भूलवश ‘विदहोल्ड’ पढ़ दिया। हालांकि देओल ने अपनी त्रुटि को स्वयं भांपते हुए तत्काल इसे दुरूस्त कर लिया।

अजमेर से भाजपा सांसद भागीरथ चौधरी ने संस्कृत में शपथ लेनी शुरू की तो सचिवालय के कर्मचारियों ने कहा कि उन्होंने पहले हिंदी में शपथ लेने के बारे में सूचित किया था। इस पर चौधरी ने आसन से कहा कि उन्हें संस्कृत में शपथ लेने की इजाजत दी जाए। कार्यवाहक अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार की अनुमति मिलने के बाद उन्होंने संस्कृत में शपथ ली।

समाजवादी पार्टी के बुजुर्ग नेता और मैनपुरी संसदीय सीट से निर्वाचित सांसद मुलायम सिंह यादव मंगलवार को व्हील चेयर पर लोकसभा पहुंचे और उन्हें खराब स्वास्थ्य के कारण निर्धारित क्रम से पहले निचले सदन की सदस्यता की शपथ दिलाई गयी। यादव को उनके पुत्र एवं आजमगढ़ से सपा सांसद अखिलेश यादव व्हील चेयर पर बैठाकर निचले सदन में लेकर आये। मुलायम का स्वास्थ्य पिछले कुछ दिन से खराब चल रहा है। उनके सदन में पहुंचने के बाद कार्यवाहक लोकसभा अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार ने लोकसभा महासचिव से कहा कि मुलायम सिंह यादव सदन के वरिष्ठ सदस्य हैं और आजकल बीमार चल रहे हैं। इसलिए उन्हें पहले शपथ दिलायी जाए। आसन के इस निर्देश के बाद महासचिव ने शपथ लेने के लिए सपा नेता का नाम पुकारा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App