ताज़ा खबर
 

हरियाणा: हिसार के तेल मिल में बड़ा विस्फोट, 15 मजदूर झुलसे, सात की हालत गंभीर

विस्फोट का प्रभाव इतना अधिक था कि मिल की दीवारें और छत टुकड़े-टुकड़े हो गए और यह मलबे के ढेर में तब्दील हो गया।

ग्राफिक्‍स का इस्‍तेमाल केवल प्रस्‍तुतिकरण के लिए किया गया है।

हिसार-तोहन रोड पर स्थित एक तेल मिल में विस्फोट से कम से कम 15 श्रमिक झुलस गए हैं और उनमें से सात की हालत गंभीर है। पुलिस ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बॉयलर में रिसाव होने के बाद आॅयल टैंक में विस्फोट हुआ। हिसार, तोहाना, बरवाला और नरवाना के अग्निशमन कर्मियों को आग बुझाने में पांच घंटे का वक्त लगा। विस्फोट का प्रभाव इतना अधिक था कि मिल की दीवारें और छत टुकड़े-टुकड़े हो गए और यह मलबे के ढेर में तब्दील हो गया। सभी घायलों को हिसार स्थानांतरित किया गया है और उन्हें विभिन्न निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

पुलिस ने बताया कि सात व्यक्ति विस्फोट से 90 से 100 फीसदी तक झुलस गए हैं। पुलिस ने बताया कि इन लोगों की स्थिति नाजुक है। वहीं, आठ श्रमिक 20-85 फीसदी तक झुलसे हुए हैं और इन्हें हिसार के निजी अस्पताल में भर्ती काराया गया है। हिसार जिले की पुलिस प्रमुख मनीषा चौधरी ने घटनास्थल और अस्पतालों का दौरा करके स्थिति की जानकारी ली। हाल ही में उत्तर प्रदेश के एनटीपीसी संयंत्र के बॉयलर में हुए विस्फोट से 33 लोगों की मौत हो गई थी।

HOT DEALS
  • Lenovo K8 Note Venom Black 4GB
    ₹ 11250 MRP ₹ 14999 -25%
    ₹1688 Cashback
  • Panasonic Eluga A3 Pro 32 GB (Grey)
    ₹ 9799 MRP ₹ 12990 -25%
    ₹490 Cashback

खबर के मुताबिक, जिस वक्त उत्तर प्रदेश के एनटीपीसी संयंत्र के बॉयलर में यह हादसा हुआ था, उस वक्त संयंत्र में लगभग 150 मजदूर काम कर रहे थे। जहां यह हादसा हुआ, वहां 500 मेगावाट बिजली का उत्पादन होता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऊंचाहार दुर्घटना का संज्ञान लेते हुए प्रमुख सचिव (गृह) को बचाव और राहत कार्य के लिए हर संभव मदद के निर्देश दिए थे। इसके साथ ही जिलाधिकारी समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश दिए गए थे। मृतकों के परिजनों को राज्य सरकार की तरफ से दो लाख रुपए, गम्भीर रूप से घायलों को 50 हजार रुपए और मामूली रूप से घायलों को 25 हजार रुपए मुआवजा देने की घोषणा की गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App