ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश में लू से 10 की मौत, बुंदेलखंड पारा 47 डिग्री पहुंचा

उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में लू के कारण पिछले 24 घंटों में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई है।

Author लखनऊ | June 6, 2017 2:53 PM

उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में लू के कारण पिछले 24 घंटों में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई है। हालांकि राजधानी लखनऊ व आसपास के इलाकों में मंगलवार सुबह से ही आंशिक तौर पर बदली छाई हुई है और ठंडी हवाएं चल रही हैं। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान दिन में कई जगहों पर बारिश होने की सम्भावना है। पूरे राज्य में अस्पतालों में हीट स्ट्रोक, पेचिश, उल्टी और तेज बुखार के मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी ह़ुई है। । यहां तापमान रिकॉर्ड स्तर तक बढ़ सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक, रविवार को यहां तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया।

बांदा में सर्वाधिक गर्मी रही, यहां तापमान 48 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि महोबा में भी रविवार को पारा चढ़ा रहा, यहां तापमान 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। लखनऊ में 45.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जो अधिकतम तापमान से चार डिग्री ज्यादा रहा। वहीं आद्र्ता 75 से घटकर 60 फीसदी रह गई। न्यूनतम तापमान 27.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। स्थानीय मौसम विभाग के निदेशक जे.पी. गुप्ता ने बताया कि पश्चिम से चलने वाली गर्म हवाओं से लू की स्थिति को बल मिला। अगले कुछ दिनों तक मौसम में कोई बदलाव नहीं होगा।
हालांकि, मौसम विभाग ने राज्य में कुछ जगहों पर छह से सात जून के बीच बूंदाबांदी होने की संभावना जताई है।

राज्य में बुंदेलखंड में सबसे ज्यादा गर्मी है, जहां औसत तापमान 47 डिग्री चल रहा है। बांदा और महोबा जिलों में भी लू का कहर जारी है।अधिकारियों के अनुसार, लू और हीट स्ट्रोक के कारण बुंदेलखंड क्षेत्र में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि अवध क्षेत्र में छह बच्चों की मौत हो गई। इटावा, मैनपुरी, उन्नाव, कानपुर, फतेहपुर, हरदोई और औरैया में तापमान 46 डिग्री सेल्सियस के आसपास चल रहा है।
पूर्वाचल में मिर्जापुर में सर्वाधिक 46.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जिसके बाद सोनभद्र में 45.6 डिग्री सेल्सियस और वाराणासी में 45 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिले – बिजनौर, सहारनपुर, बागपत, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बुलंदशहर सर्वाधिक गर्म रहे, जहां औसत तापमान 42 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App