ताज़ा खबर
 

छत्तीसगढ़ः ज्वॉइंट ऑपरेशन में पुलिस को बड़ी सफलता, 12 नक्सली ढेर; 1 ग्रेहाउंड कमांडो शहीद

पुलिस में स्पेशल डीजी (नक्सल ऑपरेशंस) डीएम अवस्थी ने इस बारे में पुष्टि की। उन्होंने कहा कि 12 नक्सली इस ऑपरेशन में मारे गए हैं। यह कार्रवाई तेलंगाना पुलिस और छत्तीसगढ़ पुलिस ने संयुक्त तौर पर की।

घटनास्थल के पास मृतकों की लाशों को अस्पताल पहुंचाने के लिए पहुंचा हेलीकॉप्टर और नक्सली की लाश को लेकर जाती पुलिस। (एक्सप्रेस फोटो)

छत्तीसगढ़ में पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। शुक्रवार सुबह होली के दिन यहां 12 नक्सली मारे गिराए गए। मरने वाले 12 नक्सलियों में छह महिलाएं थीं, जबकि मुठभेड़ में पुलिस के एक ग्रेहाउंड कमांडो की जान भी चली गई। दो नक्सलियों की पहचान दामोदर और लक्ष्मण के रूप में हुई। सूत्रों के मुताबिक, दामोदर तेलंगाना स्पेशल जोन में नक्सलियों का मुखिया था। पुलिस ने संयुक्त ऑपरशेन के दौरान नक्सलियों के पास से हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किए, जिसमें एक-47, एक एसएलआर, पांच इनसास राइफल शामिल हैं। पुलिस की ओर यह कार्रवाई बीजापुर जिले के पुजारी कांकेर इलाके में की गई। पुलिस में स्पेशल डीजी (नक्सल ऑपरेशंस) डीएम अवस्थी ने इस बारे में पुष्टि की। उन्होंने कहा कि 12 नक्सली इस ऑपरेशन में मारे गए हैं। यह कार्रवाई तेलंगाना पुलिस और छत्तीसगढ़ पुलिस ने संयुक्त तौर पर की।

अधिकारियों के अनुसार, एंकाउंटर से पहले 50-60 नक्सली एक बैठक के लिए एकजुट हुए थे। तीन दिन पहले यहां पर पुलिस का कॉम्बिंग ऑपरेशन शुरू हुआ था। आपको बता दें कि छत्तीसढ़ के कई क्षेत्रों में नक्सलियों ने बीते दिनों पुलिस और सुरक्षाबलों ने घात लगाकर कई हमलों को अंजाम दिया था। ऐसे में यह ज्वॉइंट ऑपरेशन पुलिस और नक्सलवाद के खिलाफ बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है। हाल की घटना से पहले 28 फरवरी को राज्य के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में पुलिस ने नौ नक्सलियों को धर दबोचा था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, तिप्पापुरम गांव के पास नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग की थी, जिसमें एक पुलिसकर्मी जख्मी हो गया था। यह गांव तेलंगाना बॉर्डर से कुछ ही दूरी पर स्थित है। पुलिस की ओर से की गई इस कार्रवाई में स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ), डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्ड (डीआरजी) भी शामिल थी।

जख्मी हुए पुलिस वाले की पहचान अरविंद सलाम के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक, नक्सलियों की फायरिंग के बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। डेढ़ घंटे तक मुठभेड़ चलती रही, जिसके बाद नक्सलियों को वहां से भागना पड़ा। हालांकि, पुलिस ने संभावना जताई है कि कुछ नक्सलियों की मौके पर ही मौत हो गई।

Next Stories
1 लड़कियों पर वीर्य भरे गुब्बारे फेंकने की शिकायत के बाद दिल्ली पुलिस ने तैनात की अतिरिक्त फोर्स, वॉटर बलून फेंकने पर भी एक्शन
2 राज्यसभा में भी कम होगी समाजवादी पार्टी की ताकत
3 होली के पर्व में जोश के साथ होश भी जरूरी: मुख्यमंत्री
ये पढ़ा क्या?
X