ताज़ा खबर
 

संपादकीयः लानत-मलानत

पश्चिम बंगाल में भाजपा दूसरे नंबर की सियासी ताकत बनने के लिए लगातार व्याकुल है। इसमें कोई संदेह नहीं कि उसका वोटबैंक भी लगातार बढ़ा है।

Author April 7, 2018 3:44 AM
अमित शाह

पश्चिम बंगाल में भाजपा दूसरे नंबर की सियासी ताकत बनने के लिए लगातार व्याकुल है। इसमें कोई संदेह नहीं कि उसका वोटबैंक भी लगातार बढ़ा है। भले सीटें उसे अभी तक ज्यादा न मिल पाई हों। कांग्रेस और वाम मोर्चे के जनाधार में लगातार आ रही गिरावट से भाजपा खुश है। अब पंचायत चुनाव को लेकर होगा इस सूबे में घमासान। भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच चुनावी जंग हिंसक वारदातों के बिना निपट नहीं पाती। अगले महीने एक, तीन और पांच मई को होंगे पंचायत चुनाव। उसके बाद लोकसभा चुनाव की नौबत आ जाएगी। इसी वजह से पंचायत चुनावों को अहमियत मिल रही है। ग्रामीण इलाकों में किसकी पैठ गहरी है, यह भी पंचायत चुनाव के नतीजों से ही तय होता है। सूबे से हिंसा की खबरें आनी शुरू हो गई हैं। तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ विपक्षी दलों के उम्मीदवारों को धमकाने और उनके साथ मारपीट करने के आरोप सामने आने लगे हैं। भाजपा ने तो सुप्रीम कोर्ट में भी गुहार लगाई है।

उसकी शिकायत है कि तृणमूल कांग्रेस के लोग उसके उम्मीदवारों को नामांकन पत्र तक दाखिल नहीं करने दे रहे। पार्टी के सूबेदार दिलीप घोष का कहना है कि केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के बिना सूबे में निष्पक्ष और मुक्त चुनाव संभव है ही नहीं। लिहाजा फिलहाल पंचायत चुनाव को टाल देना चाहिए। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस क्यों मानेगी विपक्ष की बात। उसे तो विपक्ष के तमाम आरोप बेबुनियाद ही लगते हैं। तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी तो कह भी रहे हैं कि विपक्ष के पास अनर्गल आरोप लगाने के सिवा और कोई काम बचा ही नहीं। चूंकि हार सामने दिख रही है सो, असली मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए बेसिर पैर के आरोप लगा रहे हैं।

रही विपक्षी दलों की बात तो उनकी शिकायत पर राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी अचानक सक्रिय हो गए। राजभवन में ही सूबे के आला अफसरों को तलब कर लिया। समीक्षा के बहाने चुनाव आयुक्त अमरेंद्र कुमार सिंह के साथ बैठक अलग की। केंद्र को हिंसा के बारे में अपनी रिपोर्ट भी भेजेंगे राज्यपाल। तभी तो तृणमूल कांग्रेस ने राज्यपाल पर पक्षपात का आरोप जड़ दिया है। पार्टी के सांसदों का एक प्रतिनिधि मंडल दिल्ली में गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर त्रिपाठी की शिकायत भी कर आया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App