Rahul on the Prime Minister, He Said stop speech and start work - राहुल ने प्रधानमंत्री पर किया कटाक्ष, कहा- भाषण देना बंद कर काम शुरू करना चाहिए - Jansatta
ताज़ा खबर
 

राहुल ने प्रधानमंत्री पर किया कटाक्ष, कहा- भाषण देना बंद कर काम शुरू करना चाहिए

राहुल ने कहा, ‘भाजपा रोजगार सृजन, काला धन लाने, अर्थव्यवस्था को दुरूस्त करने में नाकाम रही लेकिन मोदी बस ये बात करते हैं कि कांग्रेस ऐसी है, कांग्रेस वैसी है।’

Author February 12, 2018 3:10 AM
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (एक्सप्रेस आर्काइव)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उनका कार्यकाल खत्म होने में ज्यादा समय नहीं बचा इसलिए उनको अतीत पर भाषण देना बंद कर काम शुरू करना चाहिए। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘चुनावों के दौरान आपको देश को बताना होगा कि पांच साल में आपने क्या किया। पांच साल होने वाले हैं और आपने अपना खाता भी नहीं खोला है।’ चुनावी राज्य कर्नाटक के उत्तरी हिस्से में दूसरे दिन अपनी जन आशीर्वाद यात्रा जारी रखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मोदी अपना प्रदर्शन गिनाने की जगह कांग्रेस पर हमला करने के लिए अतीत में जाते है।

राहुल ने कहा, ‘भाजपा रोजगार सृजन, काला धन लाने, अर्थव्यवस्था को दुरूस्त करने में नाकाम रही लेकिन मोदी बस ये बात करते हैं कि कांग्रेस ऐसी है, कांग्रेस वैसी है।’ उन्होंने कहा कि देश ने युवाओं को रोजगार प्रदान करने, किसानों की मदद करने, स्कूल, अस्पताल बनाने के लिए मोदी को प्रधानमंत्री बनाया। भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भाजपा पर अपना हमला तेज करते हुए राहुल ने कहा कि कांग्रेस की सिद्धरमैया सरकार ने पिछले पांच साल में घोटाला मुक्त शासन दिया है जबकि भाजपा ने कर्नाटक में भ्रष्टाचार में विश्व रेकार्ड तोड़ा था।

उन्होंने कहा, ‘पिछले पांच साल में एक भी घोटाला नहीं हुआ और उनके (भाजपा) समय में एक से एक, खनन से लेकर अलग-अलग तरह के घोटाले हुए।’ राज्य में विधानसभा चुनावों के पहले अपनी जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान कोप्पल जिले में सड़क किनारे सभा को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा, ‘चुनाव आ रहा है कांग्रेस पार्टी और सिद्धरमैया का समर्थन कीजिए। एक बार फिर से हमारी सरकार को यहां लाइए ताकि हम आपके साथ मिलकर काम कर सकें।’ जनसभा में गांधी ने कर्नाटक में भ्रष्टाचार के बारे में बात करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पूर्व की भाजपा सरकार में तीन मुख्यमंत्री हुए, चार मंत्रियों को जेल जाना पड़ा और इस्तीफा देना पड़ा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App