राजनीति

आचरण की कसौटी पर शिक्षक

बीते सोलह नवंबर को बंगलुरु के परपाना अग्रहारा थाना अंतर्गत स्थित एक निजी स्कूल की चार वर्षीय छात्रा के साथ शारीरिक शिक्षा के उसके...

बेबाक बोल : चरम पर चरमपंथ

पेरिस में हुए धमाकों का दंश फ्रांस और यूरोप को ही नहीं, बल्कि आने वाले समय में पूरे विश्व को सालता रहेगा। इसके जख्म...

स्वास्थ्य सेवा का निदान

देर आयद दुरुस्त आयद। देश में सस्ती दवाएं उपलब्ध करवाने की कार्य-योजना पर अमल शुरू हो गया है। स्वास्थ्य-सेवा उद्योग में सार्वजनिक-निजी क्षेत्र सहयोग..

बच्चे, समाज और कानून

छब्बीस साल पहले संयुक्त राष्ट्र की आमसभा में ‘बाल अधिकार समझौते’ को पारित किया गया था, जिसके बाद बच्चों के अधिकार को वैश्विक स्तर...

शरणार्थी संकट और मानवीय चुनौतियां

शरणार्थी समस्या इस समय दुनिया भर में सबसे गहरी चिंता का विषय है। इसका कोई निदान किसी के पास नहीं है। आतंकवाद से जूझ...

बाल श्रम, सरकार और समाज

केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अनुसार बाल श्रम (प्रतिबंध और नियमन) संशोधन विधेयक-2012 को केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंजूरी मिल गई है। संभव है...

पर्यावरण और विश्व शांति का प्रश्न

पवित्र जुम्मे का दिन कलंकित हुआ है। तेरह नवंबर 2015 को पेरिस में हुए आतंकी कत्लेआम से हम सब आहत हैं, साथ ही आईएस...

ऑनलाइन कारोबार की माया

ऑनलाइन खुदरा कारोबारियों द्वारा अखबार, टीवी, रेडियो, होर्डिंग के जरिए ग्राहकों को लुभाने की कोशिश की जा रही है। ऐसे विज्ञापनों की अनदेखी करना...

नेहरू के नजरिए से

मनुष्य के यश की आयु निधन के बाद शुरू होती है। भारत पर बीसवीं सदी में सबसे ज्यादा असर नेहरू का ही रहा है।...

म्यांमा में नए युग का आगाज

म्यांमा में पच्चीस वर्ष बाद स्वतंत्र रूप से संपन्न हुए चुनाव में लोकतंत्र बहाली आंदोलन की नेता आंग सान सू की की पार्टी नेशनल...

लॉर्ड मेघनाथ देसाई का ब्‍लॉग: G-20 के सभी देशों का दौरा करने वाले इकलौते पीएम हैं मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब 15-16 नवंबर को तुर्की में जी-20 सम्‍मेलन में हिस्‍सा ले रहे होंगे तो वहां वह शायद इकलौते होंगे जिसने बाकी...

आरक्षण पर श्वेत पत्र की जरूरत

इस लेख के प्रारंभ में मैं बिहार चुनाव के विजेता गठबंधन के नेता माननीय नीतीश कुमार को बधाई देना चाहूंगी। नतीजों से परे, यह...

दिवाली खास: … तो रावण को राम ने नहीं, लक्ष्‍मण ने मारा

दिवाली रावण को मारने के बाद राम के वनवास से अयोध्‍या लौटने की कहानी से जुड़ी है। लेकिन जैन रामायण के मुताबिक रावण का...

शिक्षा में कब होगा मेक इन इंडिया

अच्छी शिक्षा लगातार महंगी हो रही है। सरकारी शिक्षण संस्थाओं के बजाय निजी स्कूल-कॉलेजों को तरजीह देने वाले मां-बाप हमेशा यह रोना रोते हैं...

न्याय का नखलिस्तान

भारतीय समाज पहले वर्ण-व्यवस्था आधारित था जो धीरे-धीरे जाति-व्यवस्था में परिवर्तित हो गया। असमानता, अलगाववाद, क्षेत्रवाद, रूढ़िवादिता समाज में पूरी तरह व्याप्त थी..

पी चिदंबरम का कॉलम ‘दूसरी नजर’ : जीत हो या हार, कसौटी पर रहेंगे मोदी

जब आठ नवंबर की सुबह इस स्तंभ को पढ़ रहे होंगे, माहौल उत्सुकता से भरा होगा। हरेक के मन में यही सवाल हावी...

Opinion परंपरा और आधुनिक गणराज्य की खिचड़ी

हरियाणा के सुनपेड़ की घटना के बाद केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह ने जो बयान दिया था, उसे लेकर गुबार अब थम चुका है।...

श्वेत क्रांति पर मंडराता संकट

जिस प्रकार आयातित खाद्य तेल ने सरसों के तेल को रसोईघरों से खदेड़ दिया, उसी प्रकार की घटना देश के करोड़ों दूधियों के साथ...