After Notbandi Metro Increase More Than 1200% Online Payment - Jansatta
ताज़ा खबर
 

नोटबंदी के बाद मेट्रो में बढ़ा 1200 फीसद से ज्यादा आॅनलाइन भुगतान

केंद्र सरकार के डिजिटल लेनदेन के नारे का बोलबाला दिल्ली मेट्रो में दिखने लगा है। मेट्रो के स्मार्ट कार्ड भुगतान में पिछले दो महीने के आंकड़े बताते हैं कि दिसंबर और जनवरी के बीच डेबिट कार्ड से 1000 फीसद और आॅनलाइन रिचार्ज के विभिन्न माध्यमों से करीब 280 फीसद बढ़ोतरी दर्ज हुई है।

Author February 25, 2017 2:14 AM
दिल्ली मेट्रो। (File Pic)

केंद्र सरकार के डिजिटल लेनदेन के नारे का बोलबाला दिल्ली मेट्रो में दिखने लगा है। मेट्रो के स्मार्ट कार्ड भुगतान में पिछले दो महीने के आंकड़े बताते हैं कि दिसंबर और जनवरी के बीच डेबिट कार्ड से 1000 फीसद और आॅनलाइन रिचार्ज के विभिन्न माध्यमों से करीब 280 फीसद बढ़ोतरी दर्ज हुई है। दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) के अधिकारियों के मुताबिक, पिछले दो महीने में मेट्रो यात्रियों ने उम्मीद से कई गुना ज्यादा डिजिटल लेनदेन किया। मेट्रो का कहना है कि दिल्ली मेट्रो के 61 लाख स्मार्ट कार्ड चलन में हैं। आने वाले दिनों में डिजिटल भुगतान बढ़ेगा। दिल्ली मेट्रो के अधिकारियों का कहना है कि अगर देखा जाए तो पिछले दो साल में दिल्ली मेट्रो की रिचार्ज व्यवस्था में बड़े बदलाव हुए हैं। इस दौरान मेट्रो ने अपने स्टेशनों पर मानवरहित भुगतान बढ़ाने का इंतजाम किया है। वेबसाइट और डेबिट-क्रेडिट कार्ड से रिचार्ज को तवज्जो दी गई। ताकि मेट्रो यात्री घर बैठे स्मार्ट कार्ड रिचार्ज कर सकें और स्टेशनों पर भुगतान के लिए लाइनों से बचा जाए। मकसद यही है कि धीरे-धीरे मेट्रो में नकदीरहित व्यवस्था बनाई जाए।

डीएमआरसी के प्रवक्ता अनुज दयाल ने भुगतान के तरीके में बदलाव को लेकर कहा कि पहले जहां लोग एटीएम कार्ड रखने के बावजूद स्मार्ट कार्ड रिचार्ज के लिए उसका उपयोग नहीं करते थे अब धड़ल्ले से कर रहे हैं। पिछले साल दिसंबर से इस साल के जनवरी अंत तक मेट्रो यात्रियों ने रिचार्ज के लिए डेबिट-क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल बहुत ज्यादा किया है। मेट्रो से कम नकदी लेन-देन करके स्मार्ट कार्ड रिचार्ज कराए गए हैं, जिसमें 1000 फीसद का इजाफा दर्ज हुआ और विभिन्न आॅनलाइन व डिजिटल माध्यमों से स्मार्ट कार्ड रिचार्ज में करीब 280 फीसद बढ़ोतरी देखने को मिली है।

मेट्रो के आंकड़े कहते हैं कि पहले डेबिट-क्रेडिट कार्ड से 1300 से 1400 दैनिक स्मार्ट कार्ड का ही भुगतान करते थे जो दिसंबर-जनवरी में बढ़कर 13 हजार प्रतिदिन पहुंच गया। इसमें 1000 फीसद की बढ़ोतरी दर्ज हुई है। वहीं आॅनलाइन रिचार्ज के दूसरे माध्यम जैसे पेटीएम, वेबसाइट, एजेंट व आइसीआइआइसीआइ बैंक के जरिए पहले औसतन 6500 से सात हजार स्मार्ट कार्ड रिचार्ज होते थे जो इन दो महीने (दिसंबर-जनवरी) में बढ़कर करीब 17,500 प्रतिदिन हो गया। मेट्रो की हर स्टेशन पर दो कार्ड स्वाइप मशीन लगाने की योजना है। आज के दौर में दिल्ली मेट्रो के 75 फीसद यात्री स्मार्ट कार्ड धारक हैं। 400 कार्ड स्वाइप मशीनों के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू हो गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App