ताज़ा खबर
 

जयंती विशेष: पाकिस्तान से अवॉर्ड लेने के कारण बालासाहब ठाकरे ने तोड़ दी थी दिलीप कुमार से दोस्ती

बॉलीवुड के साथ बालासाहब ठाकरे के बेहद अच्छे संबंध रहे। जरूरत पड़ने पर उन्होंने बड़े-बड़े स्टार्स की मदद की।

1 of 7
anu-kapoor
जब संजय दत्त का नाम 1993 के बम विस्फोट केस में आया तब भी सुनील दत्त को बाल ठाकरे ने मदद की थी। ( बाल ठाकरे और सुनील दत्त, साथ में हैं संजय दत्त)

पूर्व शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे की आज 91वीं (23 जनवरी) जयंती है। बाल ठाकरे जिन्होंने बिना किसी गद्दी के ही दशकों पूरे महाराष्ट्र पर राज किया। उन्होंने अपने करियर की शुरूआत बतौर कार्टूनिस्ट लेकिन अपने खास अंदाज और भाषण देने की शानदार कला के दम पर उन्होंने एक नेता के तौर पर शोहरत पाई। बालासाहब ठाकरे के जितने प्रशंसक थे उतने ही विरोधी भी। मुंबई उनकी पार्टी का शिवसेना का गढ़ था और पूरा बॉलीवुड मुंबई से ही चलता है। ऐसे में बॉलीवुड में बाल ठाकरे की जबरदस्त पकड़ थी। बड़े बड़े स्टार मातोश्री में जरूर पहुंचते थे। बॉलीवुड के कई सितारे भी बाला साहेब को अपना गॉड फॉदर मानते थे। दिलीप कुमार से लेकर शाहरुख खान तक जरूरत पड़ने पर बाल ठाकरे ने सबकी मदद की। कहते हैं कि दिलीप साहब करे साथ बाल ठाकरे के रिश्ते काफी अच्छे थे। दिलीप साहब 60 के दशक के सबसे बड़े स्टार थे तो बाला साहब उस वक्त के सबसे तेजी से उभरते राजनेता। दिलीप कुमार की फिल्म राम और श्याम के प्रोड्यूसर और निर्देशक भी दक्षिण भारतीय थे, इसलिए उनकी फिल्म के रिलीज का विरोध किया जा रहा था। तब बाल ठाकरे ने दिलीप कुमार की मदद की। लेकिन इन संबंधों में तब खटास आई जब साल 1998 में दिलीप कुमार को पाकिस्तान सरकार के दिए निशान-ए- इम्तियाज पुरस्कार से सम्मानित किया गया। तब बाल ठाकरे दिलीप कुमार से नाराज हो गए। इसके अलावा जब संजय दत्त का नाम 1993 के बम विस्फोट केस में आया तब भी सुनील दत्त को बाल ठाकरे ने मदद की थी। बोफोर्स केस में जब अमिताभ बच्चन का नाम सामने आया तब भी बाल ठाकरे उनके साथ खड़े रहे। इसके अलावा जिस किसी बॉलीवुड स्टार को अंडरवर्ल्ड से धमकी मिलती थी उसके लिए भी बाल ठाकरे खड़े रहते थे। बाल ठाकरे जिन्होंने अपने जीवन में कभी कोई संवैधानिक पद नहीं संभाला वो बिना ताज के ही बेताज बादशाह रहे। साल 2012 को बाल ठाकरे दुनिया को अलविदा कह गए।

1 of 7

January 23, 2017 5:19 pm

ये पढ़ा क्या?
X