ताज़ा खबर
 

युवराज को चयनकर्ताओं को सही साबित करना होगा: कपिल देव

कपिल देव ने कहा कि युवराज जान मैकेनरो की तरह भीड़ जुटाने में माहिर हैं। विजय हजारे ट्राफी में उम्दा प्रदर्शन कर रहे युवराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के लिए टी20 टीम में जगह दी गई हैं..
Author नई दिल्ली | December 24, 2015 00:02 am
भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने बुधवार को भारतीय टीम-20 टीम में युवरपाज सिंह के चयन को सही ठहराया। उन्होंने कहा कि वे अपने समय के बेहतरीन खिलाड़ी हैं और वे हमेशा दर्शकों के चहेते रहे हैं। अपने प्रदर्शन से वे हमेशा ही दर्शकों का मनोरंजन करते रहे हैं और मेरा मानना है कि भारतीय टी-20 टीम में उनका चयन कर चयनकर्ताओं ने बड़ा काम किया है। अब युवराज सिंह को अपनी काबलियत फिर से साबित कर उन्हें सही साबित करना है। कपिल देव ने कहा कि युवराज जान मैकेनरो की तरह भीड़ जुटाने में माहिर हैं। विजय हजारे ट्राफी में उम्दा प्रदर्शन कर रहे युवराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के लिए टी20 टीम में जगह दी गई हैं।

कपिल ने स्टार स्पोर्ट्स के एक संवाद कार्यक्रम के दौरान कहा कि युवराज रोमांचक क्रिकेटर है। वे दर्शकों को रोमांचित करने में माहिर हैं। लोग उन्हें खेलते देखने आते हैं। युवराज उसी तरह के खिलाड़ी हैं। उन्होंने कहा कि लोग उसकी बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण देखने आते हैं। वे मैच विनर है। मेरे लिये सवाल यही है कि उन्हें खुद पर कितना भरोसा है। वह पांचवें या छठे किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी कर सकता हैं। कपिल ने महेंद्र सिंह धोनी को टी20 विश्व तक कप्तान बनाये जाने के फैसले का स्वागत करते हुए उन्होंने विराट कोहली के रवैये की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि चयनकर्ताओं ने जहां वनडे टीम भविष्य को ध्यान में रख कर किया है तो दूसरी तरफ टी-20 टीम विश्व कप को ध्यान में रख कर किया गया है। संवाद कार्यक्रम में वीवीएस लक्ष्मण ने भी हिस्सा लिया।

कपिल ने कहा कि विराट के पास बल्लेबाज होते हुए भी तेज गेंदबाजों वाला रवैया है। आस्ट्रेलिया के खिलाफ आक्रामकता चेहरे पर झलकनी चाहिए। अतीत की टीमों में वह तेवर नहीं थे। इसकी शुरुआत सौरव गांगुली ने की और बंगाली होने के बावजूद वह आक्रामक था। कपिल ने उम्मीद जताई कि मोहम्मद शमी फिट होने के बाद अच्छा प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि वे चोट के बाद वापसी कर रहा है लिहाजा मुझे उम्मीद है कि उसने पूरा रिहैबिलिटेशन किया होगा। आस्ट्रेलियाई दौरे पर तेज गेंदबाजों की चर्चा करने पर उन्होंने कहा कि जरूरी यह नहीं है कि आप दस ओवर में चालीस रन दें और विकेट एक भी नहीं लें। जरूरी यह है कि आप पंद्रह ओवर की गेंदबाजी में 90 रन दें लेकिन दो विकेट झटकें तो इससे बड़ा फर्क पड़ता है। उन्होंने अजिंक्य रहाणे की भी तारीफ की और कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दिल्ली टैस्ट में लगाए दो शतकों को कोई नहीं भूलेगा। बड़े खिलाड़ी की निशानी यह होती है कि वह हर हालात में ढल जाता है। अजिंक्य रहाणे धीरे धीरे मुकम्मल खिलाड़ी बनता जा रहा है।

दूसरी तरफ लक्ष्मण ने आस्ट्रेलिया में बल्लेबाजी को लेकर पूछे गए सवाल पर कहा कि आस्ट्रेलिया में आप बल्ले के पूरे सीधे फेस के साथ नहीं खेल सकते, इसे कोण के साथ लाना होता है। अगर बल्ला सीधा आएगा तो गेंद स्लिप या गली में जाएगी। इसके अलावा युवा बल्लेबाज एक और सामान्य गलती करते हैं कि वे सोचते हैं कि वे शार्ट गेंद पर आउट हो जाएंगे लेकिन बल्लेबाज फुल लेंथ की गेंद पर आउट होते हैं। लक्ष्मण ने कहा कि सुरेश रैना के बाहर होने से मनीष पांडे और गुरकीरत मान को टीम में स्थान के लिए दावा पेश करने का मौका मिलेगा। उन्होंने कहा कि दोनों घरेलू क्रिकेट में सफल रहे हें। गुरकीरत ने चेन्नई में आस्ट्रेलिया के खिलाफ ए त्रिकोणीय सीरीज के फाइनल में काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। वह भी मौके का हकदार है।

लक्ष्मण का मानना है कि टी20 टीम इस बात का संकेत है कि चयनकर्ताओं ने फिलहाल भारत में विश्व टी20 को जीतने को लक्ष्य बनाया है जबकि एकदिवसीय टीम इस बात का संकेत है कि 2019 विश्व कप के मुख्य खिलाड़ी कौन होंगे और महेंद्र सिंह धोनी इस टीम का हिस्सा होंगे। उन्होंने कहा कि मैं निश्चित तौर पर धोनी को 2019 विश्व कप तक खेलते हुए देखता हूं क्योंकि वे सुपर फिट है। और इसका कारण यह है कि मैंने उन्हें चोट के कारण मैच से बाहर होते नहीं देखा। कुछ अंगुली की कुछ चोटों का सामना करना पड़ा है। मुझे कोई संदेह नहीं है कि वे 2019 विश्व कप तक उपलब्ध रहेंगे। मुझे खुशी है कि उन्होंने विजय हजारे ट्राफी में सात मैच खेले क्योंकि उसे तैयारी की जरू रत है।

आशीष नेहरा को मैच विजेता करार देते हुए लक्ष्मण ने कहा कि वे ऐसे गेंदबाज है जो अपनी टीम के लिए शानदार प्रदर्शन कर सकता है। एकदिवसीय टीम में बरिंदर सरन की मौजूदगी पर लक्ष्मण ने कहा कि मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा और उमेश यादव जैसे एक आयामी आक्रमण में बाएं हाथ के तेज गेंदबाज की मौजूदगी हमेशा अच्छी होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App