ताज़ा खबर
 

प.बंगालः CM ममता बनर्जी की डॉक्टरों को डेडलाइन- 4 घंटे में खत्म करिए हड़ताल, नहीं तो लूंगी कड़ा ऐक्शन

इस घटना का असर धीरे-धीरे पूरे राज्य पर भी दिखने लगा है। दूसरे अस्तपतालों के डॉक्टर भी हड़ताल पर चले गए हैं।

Author कोलकाता | June 13, 2019 2:33 PM
प.बंगाल की सीएम ममता बनर्जी। (फोटोः पीटीआई)

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हड़ताल पर बैठे नीलरतन अस्पताल के डॉक्टरों को चार घंटे की डेडलाइन दी है। सीएम ने कहा है कि अगर वह इन चार घंटे की भीतर अपनी हड़ताल खत्म नहीं करेंगे तो उनके खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा।

बता दें कि बीते चार दिनों से कोलकाता के नीलरतन सरकार (एनआरएस) अस्पताल व मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर हड़ताल पर बैठे हुए हैं। एक मरीज की मौत के बाद उनके परिजनों ने डॉक्टरों के साथ मारपीट पिटाई की जिसके बाद जुनियर डॉक्टर हड़ताल पर चले गए। डॉक्टरों की मांग है कि उन्हें जरूरी सुरक्षा मुहैया करवाई जाए तभी वह काम पर लौटेंगे। इस घटना का असर धीरे-धीरे पूरे राज्य पर भी दिखने लगा है। दूसरे अस्तपतालों के डॉक्टर भी हड़ताल पर चले गए हैं।

ममता ने कहा ‘मैंने अस्पताल के बाहर मरीजों को ईलाज के लिए इंतजार करते देखा जिनमें से कुछ की हालत बेहद गंभीर थी। यह शर्मनाक है और मैं इस गैरकानूनी विरोध की निंदा करती हूं।’

ममता ने आगे कहा ‘हमने इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया है लेकिन डॉक्टर अब भी हड़ताल पर हैं। अगर वह अपनी हड़ताल वापस नहीं लेते और काम पर वापस नहीं लौटते तो उनके खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा। अगर वे अगले चार घंटों में काम पर वापस नहीं आते हैं तो सरकार उनमें से किसी का भी समर्थन नहीं करेगी। यह एक आवश्यक सेवा है। उन्हें दोपहर 2 बजे तक काम पर वापस जाना होगा। मरीजों के साथ वे जिस तरह का व्यवहार कर रहे हैं, वह अस्वीकार्य है।’

इससे पहले सीएम ममता कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में स्थिति का जायजा लेने पहुंची थीं जहां पर डॉक्टरों ने उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। डॉक्टरों ने अपने हाथों मे ‘हमें न्याय चाहिए’ के पोस्टर भी लिए हुए थे।। इस दौरान कुछ छात्रों ने नारे लिखे पोस्टर दिखाकर ममता का विरोध किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X