ताज़ा खबर
 

यूपी सरकार का फैसला, सीएम योगी के भाषण और सरकारी सूचनाएं संस्कृत में भी होंगी जारी

सार्वजनिक सूचनाओं के लिए मुख्यमंत्री के भाषण के अनुवाद के लिए राज्य सूचना विभाग ने लखनऊ स्थित राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान की मदद लेने का फैसला किया है।

योगी आदित्यनाथ फोटो सोर्स- जनसत्ता

उत्तर प्रेदश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भाषण और सरकारी सूचनाएं (प्रेस रिलीज) अब संस्कृत में भी जारी होंगी। राज्य सरकार के मुताबिक ये फैसला संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए लिया गया है।

इससे पहले राज्य सूचना विभाग द्वारा जारी सूचनाएं और प्रचार साामग्री ज्यादातर हिंदी और चुनिंदा सूचनाएं उर्दू और अंग्रेजी में जारी होती थीं। अतिरिक्त मुख्य सचिव (राज्य सूचना विभाग) अवनीश अवस्थी ने बताया कि संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री के महत्वपूर्ण भाषण और सरकार की जानकारी भी संस्कृत में जारी की जाएगी जो अब तक सिर्फ हिंदी, अंग्रेजी और उर्दू में जारी होती थी।

सार्वजनिक सूचनाओं के लिए मुख्यमंत्री के भाषण के अनुवाद के लिए राज्य सूचना विभाग ने लखनऊ स्थित राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान की मदद लेने का फैसला किया है। इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए, निदेशक (सूचना) शिशिर सिंह ने कहा, ‘यह पहली बार है कि ऐसा कदम उठाया जा रहा है। हमने हाल ही में नई दिल्ली में नीति आयोग (NITI Aayog) की बैठक में दिए गए मुख्यमंत्री (योगी आदित्यनाथ) के भाषण में इसे आजमाया था। हमने भाषण को संस्कृत में सीमित लोगों के लिए जारी किया था। अब हम इस पहल को विस्तार देने की योजना पर काम कर रहे हैं।’

इस साल फरवरी में हुए लोकभवन में उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थानम सम्मान समारोह में कहा था कि संस्कृत माध्यमिक परिषद् का गठन सूबे में 17 साल बाद हुआ। पूरे राज्य में सभी विद्यालयों में संस्कृत की कार्यशाला अभियान के रूप में चलाई जाए। उन्होंने कहा था कि संस्कृत मां हैं वह बहू-बेटी नहीं हो सकती। इसके अलावा योगी सरकार ने बजट में संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए कुछ राशि का आवंटन भी किया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories