ताज़ा खबर
 

संयुक्त राष्ट्र ने अफगानिस्तान से कहा- तालिबान, अलकायदा और आईएस से निपटे

परिषद् ने अफगान सरकार का आह्वान किया कि वो अंतरराष्ट्रीय सहायता से तालिबान, अलकायदा, आईएसआईएस से संबद्ध संगठनों और दूसरे आतंकी समूहों के खिलाफ अपनी जंग जारी रखे।

Author Updated: March 19, 2017 4:40 PM
संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने हाल ही में 2018 से 2028 की अवधि को अंतरराष्ट्रीय जल दशक घोषित किया है। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् ने एक प्रस्ताव पारित कर अफगानिस्तान से कहा है कि वह तालिबान, अलकायदा, आईएसआईएस से संबद्ध और दूसरे आतंकी संगठनों से जुड़े आतंकी संगठनों से होने वाले ‘‘खतरे’’ से निपटे जो उसकी सुरक्षा और स्थायित्व के लिए खतरा हैं। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् ने शुक्रवार को सर्वसम्मत से इस प्रस्ताव को पारित किया जिसमें अफगानिस्तान स्थित संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन को 17 मार्च 2018 तक बढ़ाने की बात कही गई और साथ ही देश में आईएसआईएस से जुड़े संगठनों की मौजूदगी और बढ़ोतरी पर गंभीर चिंता जाहिर की गई।

परिषद् के सदस्यों ने अफगान सरकार और खास तौर पर अफगान नेशनल डिफेंस एंड सिक्योरिटी फोर्सेज के प्रति समर्थन को दोहराया और कहा कि वो उनके देश को सुरक्षित बनाने और आतंकवाद तथा हिंसक चरमपंथ के खिलाफ उनकी जंग में उनके साथ हैं। परिषद् ने अफगान सरकार का आह्वान किया कि वो अंतरराष्ट्रीय सहायता से तालिबान, अलकायदा, आईएसआईएस से संबद्ध संगठनों और दूसरे आतंकी समूहों के खिलाफ अपनी जंग जारी रखे।

देखिए वीडियो - संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद स्थायी सदस्यता: भारत अस्थायी रूप से वीटो पावर छोड़ने को तैयार

ये भी देखिए - संयुक्त राष्ट्र में भारत ने पाकिस्तान को विश्व शांति के लिए खतरा बताया; भारत ने रूस से कहा- ‘पाकिस्तान के साथ सैन्य अभ्यास दिक्कतें बढ़ाएगा’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 दिल्ली पुलिस को अपने ही कर्मियों के खिलाफ मिलीं 70 हजार से ज्यादा शिकायतें, लेकिन सिर्फ 535 की हुई जांच
2 दिल्ली में जाट फिर करेंगे चक्का जाम, मेट्रो पर भी पड़ेगा असर, गृह मंत्रालय ने धारा 144 लगाने को कहा
3 पंजाब: नीतीश कुमार की राह चले कैप्टन अमरिंदर सिंह! सूबे में बंद की 450 शराब की दुकानें
ये पढ़ा क्‍या!
X