ताज़ा खबर
 

सुनील गावस्कर ने चयनकर्ताओं पर लगाया आरोप, कहा- मुंबई के खिलाड़ियों के साथ होता है भेदभाव

गावस्कर के एक लेख ने इन दिनों क्रिकेट गलियारे में हलचल मचा दी है। दरअसल गावस्‍कर का मानना है कि राष्‍ट्रीय चयनकर्ता मुंबई के खिलाड़ियों के प्रति भेदभाव का रवैया अपनाते हैं।

पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान सुनील गावस्कर। Express poto by Kevin D’Souza.

टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाज रहे सुनील गावस्कर अपने बेबाक अंदाज के लिए भी काफी मशहूर हैं। अक्सर अखबार में लेख के माध्यम से वो क्रिकेट जगत में सुधार और कमियों का जिक्र करते रहते हैं, वहीं गावस्कर के एक लेख ने इन दिनों क्रिकेट गलियारे में हलचल मचा दी है। दरअसल गावस्‍कर का मानना है कि राष्‍ट्रीय चयनकर्ता मुंबई के खिलाड़ियों के प्रति भेदभाव का रवैया अपनाते हैं। उनका कहना है कि मुंबई के खिलाड़ी लगातार अच्छा खेल रहे हैं लेकिन इसके बावजूद भी उन्हें टीम में मौका नहीं दिया जा रहा है।
मिड डे अखबार में लिखे अपने एक लेख में उदाहरण देते हुए गावस्कर ने कहा कि सिद्धेश लाड का घरेलू क्रिकेट में प्रदर्शन काफी शानदार है, लेकिन इसके बावजूद भी उसे अबतक इंडिया ए टीम में मौका नहीं दिया गया है। लाड ने मुंबई की तरफ से 6 शतक लगाते हुए 43 के औसत से रन बनाए हैं लेकिन फिर भी उनके साथ लगातार भेदभाव हो रहा है। इसके अलावा अमोल मजूमदार की बात करते हुए उन्होंने कहा कि उसके नाम प्रथम श्रेणी क्रिकेट मे 11 हजार रन है, लेकिन इसके बावजूद भी उसे राष्‍ट्रीय टीम में मौका नहीं दिया गया।उन्‍होंने कहा अन्‍य राज्‍यों से एक या दो अनकैप्‍ड खिलाड़ियों को विभिन्‍न टूर पर जगह मिलती रही है, लेकिन मुंबई के साथ ऐसा नहीं हो रहा है। इसके साथ ही गावस्कर ने उम्मीद जताई है कि कहीं अमोल की तरह ही लाड के साथ भी न हो।


इसके अलावा गावस्कर ने रणजी ट्रॉफी सीजन चलने के दौरान इंडिया ए के न्‍यूजीलैंड दौरे पर भी सवाल खड़े किए। उन्‍होंने लिखा, रणजी ट्रॉफी जैसे अहम टूर्नामेंट के दौरान इंडिया ए टीम का दौरा आयोजित करने के कारण इस टूर्नामेंट का महत्‍व कम करने का प्रयास किया गया है। उन्होंने लिखा कि अधिकतर खिलाड़ी देश के बाहर हैं ऐसे में आप खुद ही देश के सबसे बड़े घरेलू मुकाबले का महत्व कम कर रहे हैं।

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X