महंत नरेंद्र गिरी की हत्या या खुदकुशी? 18 सदस्यों वाली एसआईटी करेगी जांच

पुलिस ने इस मामले में महंत नरेंद्र गिरी के शिष्य आनंद गिरी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर आनंद गिरी को गिरफ्तार किया है।

उत्तरप्रदेश पुलिस द्वारा बनाई गई 18 सदस्यों वाली एसआईटी महंत नरेंद्र गिरी के मौत की जांच करेगी। (फोटो: ट्विटर/ yadavakhilesh)

सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में हुई अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की मौत की जांच एसआईटी को सौंप दी गई है। उत्तरप्रदेश पुलिस द्वारा बनाई गई 18 सदस्यों वाली एसआईटी इस मामले की जांच करेगी। हालांकि पुलिस ने इस मामले में महंत नरेंद्र गिरी के शिष्य आनंद गिरी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर आनंद गिरी को गिरफ्तार किया है।

उत्तरप्रदेश पुलिस द्वारा गठित की गई एसआईटी कमेटी की कमान प्रयागराज सिटी के सीओ अजीत सिंह चौहान को सौंपी गई है। कमेटी में दो सीओ, 4 इन्स्पेक्टर, 3 सब इंस्पेक्टर सहित कुल 18 पुलिसकर्मियों को शामिल किया गया है। एसआईटी इस मामले में यह पता लगाने की कोशिश करेगी कि यह मामला हत्या का है या ख़ुदकुशी का है। हालांकि उत्तरप्रदेश पुलिस प्रथम दृष्टया इस मामले की जांच आत्महत्या के एंगल से ही कर रही है। 

इसी बीच महंत नरेंद्र गिरी का सुसाइड नोट भी सामने आया है  जिसमें उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरी पर आरोप लगाए हैं। नरेंद्र गिरी ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि मैं तो 13 सितंबर 2021 को आत्महत्या करने जा रहा था लेकिन हिम्मत नहीं कर पाया। लेकिन जब हरिद्वार से सूचना मिली कि एक दो दिन में आनंद गिरी कंप्यूटर के माध्यम से मोबाइल से किसी लड़की या महिला के साथ गलत काम करते हुए मेरा फोटो वायरल कर देगा।

इसलिए मैंने सोचा कि कहां सफाई दूंगा, एक बार तो बदनाम हो जाऊंगा। मैं जिस पद पर हूं वो गरिमा का पद है। सच्चाई तो लोगों को बाद में पता चल जाएगा। लेकिन मैं बदनाम हो जाऊंगा। इसलिए मैं आत्महत्या करने जा रहा हूं। जिसकी जिम्मेदारी आनंद गिरी, आद्या तिवारी और संदीप तिवारी पर होगी।

महंत नरेंद्र गिरि के पार्थिव शरीर का कल पोस्टमार्टम किया जाएगा और उसके बाद अंतिम संस्कार किया जाएगा। नरेंद्र गिरि का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए तबतक बाघंबरी पीठ में ही रहेगा। बुधवार को महंत नरेंद्र गिरी के अंतिम संस्कार में आने वाली भीड़ को देखते हुए सभी स्कूल कॉलेज को बंद रखने का आदेश दिया गया है। प्रयागराज जिला प्रशासन ने कहा है कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि के निधन के बाद 22 सितंबर को उनके भू-समाधि में आने वाले लोगों की भारी भीड़ के मद्देनज़र जनपद में कल कक्षा 1 से 12 तक के सभी शिक्षा बोर्डों के विद्यालय एवं समस्त कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे।

पढें अपडेट समाचार (Newsupdate News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।