ताज़ा खबर
 

Ace Against Odds ऑटोबायोग्राफी के जरिए जानिए सानिया की जिंदगी से जुड़े पहलू

महज 29 बरस की उम्र में कई उतार चढावों से जूझते हुए टेनिस के शिखर तक पहुंची ग्रैंडस्लैम विजेता सानिया मिर्जा ने अपनी आत्मकथा ‘ऐस अगेंस्ट आड्स’ में कोर्ट के भीतर और बाहर के इन संघर्षों से रूबरू कराया है।

Author नई दिल्ली | Updated: July 19, 2016 3:29 PM

महज 29 बरस की उम्र में कई उतार चढावों से जूझते हुए टेनिस के शिखर तक पहुंची ग्रैंडस्लैम विजेता सानिया मिर्जा ने अपनी आत्मकथा ‘ऐस अगेंस्ट आड्स’ में कोर्ट के भीतर और बाहर के इन संघर्षों से रूबरू कराया है।

सोलह बरस में विम्बलडन जूनियर युगल खिताब जीतकर स्टार बनी सानिया ने अपनी युगल जोड़ीदार मार्तिना हिंगिस के साथ लगातार 41 मैच जीते । उसने युगल टेनिस में नंबर एक बनने तक के अपने सफर में आई कठिनाइयों को इस किताब में कलमबद्ध किया है।

पिता इमरान मिर्जा की मदद से लिखी सानिया की इस आत्मकथा में प्रस्तावना हिंगिस ने लिखी है जिसने सानिया को खतरनाक फोरहैंड वाली बेहतरीन खिलाड़ी बताया है । भारत के एक और टेनिस स्टार और मिश्रित युगल में उनके जोड़ीदार रहे महेश भूपति ने प्राक्कथन लिखा है जिनका मानना है कि भारतीय खेलों का चेहरा बदलने में सानिया का अहम योगदान है।

किताब में बताया गया है कि कैसे सानिया की निजी जिंदगी हमेशा चर्चाओं में रही। चाहे उनके खिलाफ फतवा हो, उनके आपरेशन, पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी, शादी से पहले सेक्स पर उनकी टिप्पणी हो।

Next Stories
1 उत्तराखंड और अरूणाचल कांग्रेस के आंतरिक संकट में BJP की भूमिका नहीं: राजनाथ सिंह
2 BJP से इस्तीफा देने के बाद बोलीं सिद्धु की पत्नी- AAP है एक मात्र विकल्प
3 CRPF कमांडो पर Naxal Attack को लेकर राजनाथ ने दिया बिहार को मदद का आश्वसन
यह पढ़ा क्या?
X