ताज़ा खबर
 

Amazing: अब ट्रेन में होगी रेल रेडियो सर्विस की फैसिलिटी, सुन सकेंगे पसंदीदा FM स्टेशन

अब ट्रेन से यात्राओं के दौरान यात्री अपने पसंदीदा एफएम रेडियो स्टेशनों को सुन सकते हैं, क्योंकि भारतीय रेल ‘ट्रेन में यात्रा के दौरान ज्ञान और मनोरंजन’ के लिए ‘रेल रेडियो सेवा’ शुरू करने की योजना बना रहा है, जो आपात और आपदा की स्थिति में भी कारगर हो सकती है।

Author नई दिल्ली | July 25, 2016 12:13 AM

अब ट्रेन से यात्राओं के दौरान यात्री अपने पसंदीदा एफएम रेडियो स्टेशनों को सुन सकते हैं, क्योंकि भारतीय रेल ‘ट्रेन में यात्रा के दौरान ज्ञान और मनोरंजन’ के लिए ‘रेल रेडियो सेवा’ शुरू करने की योजना बना रहा है, जो आपात और आपदा की स्थिति में भी कारगर हो सकती है।

सरकारी लोक परिवहन ने प्रीमियर सेवा ट्रेन सहित करीब 1,000 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में इस सुविधा को शुरू करने की योजना बनाई है।
योजना के मुताबिक, कोचों में लगे सार्वजनिक उद्घोषणा :पीए: प्रणाली पर यात्री ना केवल लोकप्रिय गीत संगीत सुन सकेंगे बल्कि हर घंटे ट्रेन सम्बंधी नवीनतम सूचना से भी अवगत होते रहेंगे। इस प्रणाली का इस्तेमाल आपात स्थिति में चेतावनी देने के लिए किया जाएगा।

रेल रेडिया सेवा के तहत चुटकुलों, ज्योतिष एवं अन्य सामान्य ज्ञान के अलावा भारतीय रेल के इतिहास और इसकी मुख्य गतिविधियों से अवगत कराया जाएगा।

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राजधानी, शताब्दी और दूरंतो सहित करीब 1,000 मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में यात्रा कर रहे यात्रियों को मनोरंजन तथा सूचनाएं उपलब्ध कराने के इरादे से हमलोग कुछ प्रमुख एफएम रेडियो स्टेशनों के साथ इस व्यवस्था को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में हैं।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने अपने 2016-17 के बजट भाषण में ट्रेनों में सार्वजनिक उद्घोषणा प्रणाली के जरिए ट्रेन पर ही मनोरंजन उपलब्ध कराने के लिए एफएम रेडियो स्टेशनों को आमंत्रित करने का प्रस्ताव दिया था। फिलहाल केवल राजधानी, दूरंतो और शताब्दी ट्रेनों में ही पीए प्रणाली की सुविधा है।

अधिकारी ने बताया, ‘‘रेल रेडियो सेवा के शुरू होते ही ये सभी ट्रेन इस प्रणाली से जुड़ जाएंगी।’’ योजना के मुताबिक, रेलवे बोर्ड में स्टूडियो बनाए जाएंगे और सभी क्षेत्रीय मुख्यालयों से रेल रेडियो सेवा का संचालन होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App