ताज़ा खबर
 

हार की जिम्मेदारी ‘छोटे भाई’ की या ‘मोटा भाई’ की? चुनाव नतीजों के रुझान पर कांग्रेस नेता का तंज

कांग्रेस नेता ने एक के बाद एक ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला उन्होंने लिखा कि ईवीएम को भी ऑक्सीजन नहीं मिला। इस लिए उसका दम टूट गया।

acharya pramod, congress, jamati, narendra modi, BJP, godi media, tweet, भारत कोरोना वायरस अपडेट, कोरोना वायरस लेटेस्‍ट न्‍यूज, कोरोना वायरस की ताजा खबर, कोरोना की दूसरी लहर, covid 19 lockdown news maharashtra live updates, covid 19 latest news india, covid 19 india lockdown in hindi, coronavirus lockdown update india, coronavirus latest update india, Coronavirus cases update India, india News, india News in Hindi, Latest india News, india Headlines, jansattaकांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद ने एक ट्वीट कर सरकार पर तंज़ कसा है। (pc- ANI)

कोरोना संकट के बीच देश में हुए 4 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के विधानसभा चुनाव के लिए रविवार को मतगणना जारी है। बंगाल में एक बार फिर से तृणमूल कांग्रेस की वापसी होती दिख रही है। इस बीच कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने बीजेपी पर हमला बोला है। उन्होंने तंज करते हुए लिखा है कि हार की जिम्मेदारी ‘छोटे भाई’ की होगी या ‘मोटा भाई’ की?

कांग्रेस नेता ने एक के बाद एक ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला उन्होंने लिखा कि ईवीएम को भी ऑक्सीजन नहीं मिला। इस लिए उसका दम टूट गया। अपने एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा कि जय श्री राम-हो गया काम। अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने तंज करते हुए लिखा कि इस हार की जिम्मेदारी किसकी होगी? ‘छोटे भाई’ की होगी या ‘मोटा भाई’ की? उनके ट्वीट पर लोग तरह-तरह के रिएक्शन देने लगे। कुछ ने उन्हें कांग्रेस के प्रदर्शन की याद दिलायी तो कुछ ने बीजेपी पर हमला बोला।

एक दलीप पंचोली नाम के ट्विटर यूजर (@DalipPancholi) ने लिखा कि इनकी खुद की पार्टी पांचों राज्यों में कहीं नहीं बची और इन्हें बकैती सूझ रही है। जय श्री प्रजापति नाम के यूजर ने लिखा कि ये तो तेरा मालिक बतायेगा जिसे ये नहीं पता 3 से 100 पार पहुँचना जीत होती हैं या हार ओर 44 से 0 पर पहुचना जीत होती हैं या हार।

बताते चलें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए रविवार को जारी मतगणना में 275 सीटों के शुरुआती रुझानों में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस राज्य में सत्ता पर फिर से काबिज होती दिख रही है, जहां उसके प्रत्याशी 187 सीटों पर आगे चल रहे हैं, जबकि भाजपा के महज 85 उम्मीदवारों को बढ़त मिली हुई है।

गौरतलब है कि असम में भारतीय जनता पार्टी को शुरुआती रुझान में बढ़त मिलता हुआ दिख रहा है। वहीं तमिलनाडु में डीएमके गठबंधन 10 साल बाद सत्ता में वापसी करने जा रही है। केरल में वामपंथी गठबंधन सत्ता में वापसी करते हुए दिख रही है।

Next Stories
1 क्या फिर कांग्रेस की अगुवाई के लिए तैयार हैं? राहुल गांधी से किया गया सवाल, देखें- क्या दिया जवाब
2 अस्पताल के बाहर तड़प रहे थे मरीज, शख़्स ने की ऑक्सीजन की व्यवस्था तो यूपी पुलिस ने कर दी FIR
3 सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्रमुख ने कहा-सच बोल दूं तो मेरी गर्दन उड़ा दी जाएगी
यह पढ़ा क्या?
X