ताज़ा खबर
 

क्रीम कलर की हाफ शर्ट और सफेद मुंडु में दिखे पीएम मोदी, कंधे पर हरी पट्टी का अंगवस्त्रम- नया अंदाज बहुत कुछ कहता है

पूजा समाप्त होने के बाद भी प्रधानमंत्री मोदी केरल के रंग में रंगे नजर आएं। उन्होंने लूंगी, कुर्ते और लाल-हरी पट्टी का अंगवस्त्रम पहन रैली को संबोधित किया। इस तरह मोदी ने केरल के लोगों के प्रति स्नेह का संदेश दिया।

मंदिर परिसर में पीएम मोदी। फोटो: ट्विटर/बीजेपी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार (8 जून 2019) को केरल के त्रिशूर स्थित गुरुवायुर श्रीकृष्ण मंदिर में पूजा अर्चना की। इस दौरान वह मंदिर की पारंपरिक वेशभूषा ‘मुंडु’ में नजर आएं। क्रीम कलर की हाफ शर्ट, सफेद मुंडु और कंधे पर हरी पट्टी का अंगवस्त्रम पहने मोदी का नया अंदाज बहुत कुछ कहता दिखा।

मंदिर के नियम के मुताबिक पुरूष श्रद्धालुओं को मंदिर में सफेद ‘मुंडु’ पहनना होता है। पूरे शरीर पर सफेद कपड़े पहन पीएम का इस दौरान ‘तुला भरण’ भी किया। उन्हें कमल के फूलों से तौला गया। इसके लिए मंदिर प्रशासन ने 112 किलो कमल के फूल का इंतजाम किया था।

20 मिनट तक मंदिर के भीतर पूजना प्रक्रिया के दौरान प्रधानमंत्री ने भगवान कृष्ण को कलदी फल, कमल दल और घी चढ़ाया। फिर वह पैदल ही परिसर में स्थित मंदिर के अतिथि गृह श्रीवत्सम पहुंचे। पीएम मोदी ने डिजिटल पेमेंट से मंदिर में 39000 रुपये का दान भी दिया।

पूजा समाप्त होने के बाद भी प्रधानमंत्री मोदी केरल के रंग में रंगे नजर आएं। उन्होंने लूंगी, कुर्ते और लाल-हरी पट्टी का अंगवस्त्रम पहन रैली को संबोधित किया। उन्होंने ऐसा कर एक तीरे से दो निशाने साधने की कोशिश की। उन्होंने यह जताने की कोशिश की वह केरल की जनता के करीब हैं। दूसरा ऐसा करना बीजेपी को केरल में राजनीतिक फायदा पहुंचा सकता है। दरअसल सबरीमाला विवाद बीजेपी और आरएसस का जो रुख था उससे पार्टी को लग रहा था कि वह केरल में 20 सीटों में से कुछ सीटों पर जीत हासिल कर लेगी लेकिन नतीजे उम्मीद के मुताबिक नहीं रहे।’

रैली में उन्होंने कहा कि ‘लोकसभा चुनाव में केरल में हमारा खाता भी नहीं खुला लेकिन फिर भी यहां जनता का आभार जताने आया हूं। यह हमारी सोच और संस्कार हैं। चुनाव में जिन्होंने हमें जिताया वो भी हमारे हैं और जिन्होंने हमें नहीं जिताया वे लोग भी हमारे ही हैं। केरल मेरे लिए उतना ही महत्व रखता है जिनता वाराणासी।’

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केरल के वायनाड से सांसद चुने जाने के बाद शुक्रवार को पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र पहुंचे तो हमेशा की तरह उन्होंने कुर्ता और पजामा पहना। वह केरल के रंग में रंगे नजर नहीं आएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 अलीगढ़ मर्डर: वकीलों ने ढाई साल की बच्ची के हत्यारों का केस लड़ने से किया मना, दो और आरोपी गिरफ्तार
ये पढ़ा क्या?
X