बाबा रामदेव ने रुचि सोया के लिए हाथी पर चढ़ कराया फोटोशूट

बाबा रामदेव ने मैगजीन ‘बिज़नस टुडे’ के लिए एक फोटोशूट कराया है। इस शूट की तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रही हैं। रामदेव इस फोटोशूट में हाथी पर बैठे नज़र आ रहे हैं। यह फोटोशूट उनकी कंपनी रुचि सोया से जुड़े एक आर्टिकल के लिए कराया गया है। यह पहली बार नहीं है […]

baba ramdev, elephant shoot, patanjali, ruchi soya, jansatta
बाबा रामदेव ने रुचि सोया से जुड़े एक आर्टिकल के लिए फोटोशूट कराया है। (express file)

बाबा रामदेव ने मैगजीन ‘बिज़नस टुडे’ के लिए एक फोटोशूट कराया है। इस शूट की तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रही हैं। रामदेव इस फोटोशूट में हाथी पर बैठे नज़र आ रहे हैं। यह फोटोशूट उनकी कंपनी रुचि सोया से जुड़े एक आर्टिकल के लिए कराया गया है।

यह पहली बार नहीं है जब बाबा ने हाथी पर कोई फोटोशूट कराया है। इससे पहले 2020 में रामदेव का एक वीडियो वायरल हुआ था। उसमें वे हाथी पर बैठकर प्राणायाम कर रहे थे और संतुलन बिगड़ने पर नीचे गिर गए थे। यह वीडियो मथुरा में महावन के रमणरेती आश्रम का था। ‘बिज़नस टुडे’ के इस शूट को करने वाले फोटोग्राफर ने बताया कि हमने कभी ऐसा कोई शूट पहले नहीं किया है।

उन्होंने बताया कि हाथी का उपयोग एक ‘मेटाफर’ के रूप में किया गया है। कैसे पतंजलि ने रुचि सोया जैसी बड़ी कंपनी को खरीदा और उसे बुरे दौर से बाहर निकाला। ‘इंडिया टुडे’ से बात करते हुए रामदेव ने कहा, “जब हमने रुचि सोया को खरीदा था। तब हमने करीब 4300 करोड़ रुपये में इसे लिया था। आज इसकी मार्केट वेल्यू कम से कम 25 से 30 हज़ार करोड़ है।”

रामदेव ने आगे कहा, ” आने वाले समय में ये 50 हज़ार करोड़ तक जाएगी कि 1 लाख करोड़ तक जाएगी ये तो समय बताएगा। हम रुचि सोया और पतंजलि को एक अंतरराष्ट्रीय ब्रांड के रूप में बनाना चाहते हैं।”

आपको बता दें क‍ि पिछले दिनों शेयर बाजार रेग्युलेटर सेबी ने रुचि सोया के एफपीओ यानी फोलो-ऑन पब्लिक ऑफर को मंजूरी दे दी है। एफ़पीओ यानी फॉलोऑन पब्लिक ऑफर होता है। शेयर बाजार में लिस्टेड कंपनी रकम जुटाने के लिए एफ़पीओ के जरिये सैकेंडरी मार्केट में नए शेयर जारी करती है।

निवेशक आईपीओ की तर्ज़ पर एफ़पीओ के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। कंपनी एफ़पीओ का प्राइस बैंड तय करती है और जारी होने वाले शेयरों की संख्या भी बताती है। एफ़पीओ एक निश्चित समयसीमा के लिए ही होता है। एफ़पीओ के शेयर मिलने के बाद किसी तय तारीख से इन शेयरों की ख़रीद-फ़रोख्त शुरू होती है।

पढें अपडेट समाचार (Newsupdate News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट