ताज़ा खबर
 

लोकसभा में पत्‍नी ने किया पप्‍पू यादव का बचाव, नीतीश राज में गिरफ्तारी पर जताई मारने की साजिश की आशंका

रंजन ने कहा कि प्रदेश सरकार की कुछ नीतियों को लेकर सांसद विरोध कर रहे थे लेकिन उन्हें इस प्रकार से गिरफ्तार किया गया जो एकदम गलत है।

Author Updated: March 28, 2017 5:28 PM
सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की गिरफ्तारी का मुद्दा आज लोकसभा में उठा। (Expres Photo By Prashant Ravi)

राजद से निष्कासित सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव की गिरफ्तारी का मुद्दा आज लोकसभा में उठा और उनकी पत्नी एवं कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने बिहार पुलिस पर सांसद के अधिकारों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया। शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए रंजीत रंजन ने कहा कि हमारे सदन के एक सदस्य को कल पटना में गिरफ्तार कर लिया गया है। जिस तरह से पुलिस तंत्र काम कर रहा है, वह बेहद गंभीर है। शांतिपूर्ण ढंग से आंदोलन करने वालों को गिरफ्तार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि क्या शांतिपूर्ण ढंग से आंदोलन करना गलत है ? इस सदन के एक सांसद को घर में भी नजरबंद किया गया। फिर रात को सीजेएम की अदालत में ले जाया गया।

रंजन ने कहा कि प्रदेश सरकार की कुछ नीतियों को लेकर सांसद विरोध कर रहे थे लेकिन उन्हें इस प्रकार से गिरफ्तार किया गया जो एकदम गलत है। कांग्रेस सदस्य ने कहा कि क्या आंदोलनकारियों को मारने की साजिश तो नहीं की गई ? शून्यकाल में ही कांग्रेस के मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने कहा कि पिछले कुछ महीने से केरल में लगभग रोज महिलाओं और बच्चियों पर अत्याचार के मामले सामने आ रहे हैं और राज्य की माकपा नीत सरकार इन्हें रोक पाने में नाकाम रही है।

भाजपा के शरद त्रिपाठी ने दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में कैंसर के उपचार की पर्याप्त सुविधाएं नहीं होने का आरोप लगाया और पर्याप्त बंदोबस्त करने की मांग की। कांग्रेस के केसी वेणुगोपाल ने केरल में अपने संसदीय क्षेत्र में मनरेगा योजना का उचित क्रियान्वयन नहीं होने का आरोप लगाया और कार्यदिवस कम किये जाने का भी आरोप लगाया। माकपा के जितेंद्र चौधरी ने भी मनरेगा से संबंधित विषय उठाया। कांग्रेस के राजीव सातव ने नीट परीक्षा के लिए हर जिले में परीक्षा केंद्र की मांग की।

पप्पू यादव को बिहार की राजधानी पटना में गिरफ्तार कर लिया गया। पप्पू यादव के खिलाफ काफी समय से वारंट जारी था। अब पप्पू यादव को कोर्ट में पेश किया जाएगा। बता दें पप्पू यादव ने कुछ महिने पहले अपने समर्थकों के साथ पटना में विरोध प्रदर्शन और विधानसभा को घेरने का आरोप कोशिश की थी। इसी दौरान कार्यकर्ताओं और पुलिस की भिड़ंत हो गई। पप्पू समर्थकों ने पुलिस पर पथराव कर दिया, जिसके बाद पुलिस को भी लाठीचार्ज करना पड़ा। इस हंगामे के बाद पुलिस जनवरी के एक मामले में पप्पू यादव के खिलाफ वारंट को लेकर सक्रिय हुई और सांसद को गिरफ़्तार किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 गौतम गंभीर ने की कनपुरिया कुलदीप यादव की तारीफ, कहा- आईपीएल का दबाव बेहतर क्रिकेटर बनाएगा
2 बिहार: 80 साल की महादलित महिला को घर से खींचकर पीटा, फिर डायन बताकर जिंदा जला दिया
3 योगी आदित्य नाथ के खिलाफ लिखी कविता हटाने के लिए फेसबुक ने मांगी माफी, दोबारा किया रीस्टोर