ताज़ा खबर
 
title-bar

उत्तर कोरिया ने बीबीसी के तीन पत्रकारों को निकाला, कवरेज की शिकायतें

बीते 36 साल में उत्तर कोरिया की वर्कर्स पार्टी की कांग्रेस को कवर करने के लिए 100 से अधिक विदेशी पत्रकार देश की राजधानी पहुंचे हुए हैं।

Author प्योंगयांग | May 9, 2016 9:55 PM
बीबीसी के संवाददाता रूपर्ट विंगफील्ड। (फाइल फोटो)

उत्तर कोरिया ने सोमवार (9 मई) को बीबीसी के उन तीन पत्रकारों को निष्कासित कर दिया जिन्हें इसने देश की गरिमा को कथित तौर पर अपमानित करने को लेकर कुछ दिन पहले हिरासत में लिया था। उत्तर कोरिया ने देश में चल रही सत्तारूढ़ पार्टी की कांग्रेस के लिए विदेशी मीडिया के बहुत से प्रतिनिधियों को बुलाया था। संवाददाता रूपर्ट विंगफील्ड हेज और उनकी टीम शुक्रवार (13 मई) को रवाना होने वाली थी। उत्तर कोरिया की यात्रा पर उनके साथ नोबेल पुरस्कार से सम्मानित लोग भी थे। पत्रकारों को हवाईअड्डे पर रोका गया, हिरासत में लिया गया और उनसे पूछताछ की गई।

उत्तर कोरिया की नेशनल पीस कमेटी के महासचिव ओ रयोंग ने बताया कि विंगफील्ड हेज की न्यूज कवरेज के दौरान तथ्यों में तोड़ मरोड़ किया गया और व्यवस्था तथा और देश के नेतृत्व के बारे में बुरी बातें कही गईं। उन्होंने बताया कि विंगफील्ड ने एक माफीनामा लिखा। उन्हें सोमवार (9 मई) को निष्कासित कर दिया गया और उन्हें फिर कभी देश में घुसने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

बीबीसी ने कहा कि विंगफील्ड के निर्माता मारिया बायर्न और कैमरामैन मैथ्यू गोडार्ड को भी हिरासत में लिया गया और निष्कासित कर दिया गया। ये तीनों लोग सोमवार (9 मई) की शाम एक उड़ान से बीजिंग पहुंचे। बीबीसी ने एक बयान में कहा है कि वे इस बात को लेकर बहुत परेशान हैं कि उनके संवाददाता रूपर्ट विंगफील्ड हेज और उनकी टीम के समाचार संग्रहण पर सरकार के ऐतराज करने के बाद उन्हें उत्तर कोरिया से स्वदेश भेज दिया गया। बीबीसी ने उम्मीद जताई कि वर्कर्स पार्टी की कांग्रेस को कवर करने के लिए आमंत्रित किए गए चारों कर्मचारी उत्तर कोरिया में बने रहेंगे और उन्हें रिपोर्टिंग जारी रखने दी जाएगी।

बीते 36 साल में उत्तर कोरिया की वर्कर्स पार्टी की कांग्रेस को कवर करने के लिए 100 से अधिक विदेशी पत्रकार देश की राजधानी पहुंचे हुए हैं। हालांकि उन्हें कार्यवाही को वास्तविक रूप से कवर करने से काफी हद तक रोक दिया गया है। करीब 30 पत्रकारों को आखिरकार सोमवार (9 मई) कांग्रेस की झलक पाने के लिए करीब 10 मिनट का वक्त दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App