ताज़ा खबर
 

चचेरी बहन पंकजा मुंडे पर आपत्तिनजक टिप्पणी का आरोप, वायरल वीडियो के बाद धनंजय मुंडे पर केस

धनंजय मुंडे और पंकजा मुंडे पर्ली विधानसभा से चुनाव मैदान में एक दूसरे के खिलाफ ताल ठोक रहे हैं। पंकजा मुंडे अभी पर्ली सीट से भाजपा विधायक हैं।

Author मुंबई | Updated: October 20, 2019 2:45 PM
एनसीपी नेता धनंजय मुंडे और उनकी चचेरी बहन तथा बीजेपी नेता पंकजा मुंडे (image source-facebook/file)

एनसीपी नेता धनंजय मुंडे के खिलाफ भाजपा के एक नेता ने एफआईआर दर्ज करायी है। दरअसल धनंजय मुंडे पर आरोप है कि उन्होंने अपनी चचेरी बहन और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री पंकजा मुंडे के खिलाफ कथित तौर पर एक चुनावी सभा में आपत्तिजनक टिप्पणी की है। धनंजय मुंडे के बयान का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। फिलहाल पुलिस ने शिकायत दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

खबर के अनुसार, एनसीपी नेता धनंजय मुंडे ने बीती 17 अक्टूबर को केज तहसील के विदा गांव में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पंकजा मुंडे के खिलाफ कथित रुप से आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो सामने आने के बाद पर्ली से भाजपा अध्यक्ष जुगल किशोर लोहिया ने इसकी शिकायत पुलिस से की। जिस पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है।

इसके साथ ही भाजपा ने चुनाव आयोग और महिला आयोग से भी धनंजय मुंडे की शिकायत की है। इस दौरान कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं ने धनंजय मुंडे का पुतला जलाकर भी विरोध दर्ज कराया है। बता दें कि धनंजय मुंडे और पंकजा मुंडे पर्ली विधानसभा से चुनाव मैदान में एक दूसरे के खिलाफ ताल ठोक रहे हैं। पंकजा मुंडे अभी पर्ली सीट से भाजपा विधायक हैं।

वहीं दूसरी तरफ धनंजय मुंडे ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो को फर्जी बताया है और कहा है कि वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर उन्हें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। धनंजय मुंडे ने मांग की कि इस वीडियो की फोरेंसिक लैब में जांच करायी जाए। धनंजय मुंडे का कहना है कि उन्हें चुनावों में जनता का भरपूर समर्थन मिल रहा है, इसलिए चुनावों को भावनात्मक मोड़ देने की कोशिश की जा रही है। धनंजय मुंडे का कहना है कि वह कभी भी किसी महिला के खिलाफ गलत शब्दों का इस्तेमाल नहीं कर सकते।

बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा की 288 सीटों के लिए सोमवार को वोट डाले जाएंगे। महाराष्ट्र में रविवार को चुनाव प्रचार का आखिरी दिन था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories