ताज़ा खबर
 

Maruti Swift Vs Volkswagen Polo दोनों भारत में लोगों को आती हैं खूब पसंद! देखें 6 लाख रुपये की कीमत में कौन-सी है बेहतर

Maruti की गाड़ियां अपने इंजनों के साथ-साथ माइलेज के लिए भी जानी जाती हैं। जहां Swift अपने सेगमेंट में सबसे ज्यादा माइलेज 21.21kmpl का दावा करती है। वहीं Polo केवल 17.75kmpl का माइलेज देती है।

Author Edited By Bhawanachaudhary May 17, 2020 7:44 AM
Maruti Swift Diesel Discontinued, Maruti Swift Diesel Price, Maruti Swift Diesel Features, Maruti Suzuki Swift Diesel Mileage, Maruti Swift Diesel BS6मारुति स्विफ्ट में केवल एक पेट्रोल इंजन का विकल्प मिलता है।

Maruti Swift Vs Polo: Volkswagen Polo और Maruti Swift देश की बेस्ट हैचबैक गाड़ियों में से एक है। दोनों कारों का भारतीय बाजार में अलग फैनबेस हैं। बता दें, बीएस6 उत्सर्जन मानदंडों के साथ दोनों में अब केवल पेट्रोल इंजन मिलता हैं। हालांकि स्विफ्ट लंबे समय से देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में से एक रही है। ​आइए आपको बताते हैं कि महज 6 लाख रुपये की कीमत में दोनों गाड़ियों में कौन- सी आपके लिए बेहतर विकल्प हो सकती है।

इंजन और ट्रांसमिशन: Polo का इंजन लाइनअप BS6 मानदंडों के बाद काफी बदल गया है। कंपनी ने इसके डीजल इंजन को बंद कर दिया है, और इसके टॉप वैरिएंट में नया 1.0-लीटर टर्बो तीन सिलेंडर TSI इंजन का इस्तेमाल किया है। जो 109बीएचपी की पावर और 175एनएम का टार्क जेनरेट करता है। इसके साथ ही Polo को नेचुरली एस्पिरेटेड चार सिलेंडर युक्त पेट्रोल इंजन भी दिया गया है, जो 75बीएचपी की पावर और 95एनएम का टार्क जेनरेट करता है।

वहीं Swift में केवल एक पेट्रोल इंजन का विकल्प मिलता है। यह 1.2-लीटर VVT फोर-सिलेंडर इंजन है जो 82 बीएचपी की पावर और 113 एनएम का टार्क पैदा करता है। बता दें, Polo का टर्बो इंजन Swift की तुलना में बहुत अधिक ड्राइविंग कंफर्ट प्रदान करता है, तो पोलो का ऑटोमैटिक गियरबॉक्स भी स्विफ्ट में पेश किए गए एएमटी से बेहतर है।

फीचर्स: Polo में 165मिमी का ग्राउंड क्लीयरेंस मिलता है, जबकि Swift को 163मिमी की ग्राउंड क्लीयरेंस मिलता है। वहीं पोलो में 295लीटर का बूट स्पेस भी मिलता है जबकि स्विफ्ट में 268 लीटर बूट स्पेस ही मिलता है। बता दें, पोलो को स्विफ्ट के 14इंच के पहियों की तुलना में 15इंच के पहियों के साथ पेश किया गया है। इसके अलावा दोनों कारों में स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल, टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम जैसे फीचर्स मिलते हैं। जबकि पोलो को रियर एसी वेंट भी मिलता है, जो स्विफ्ट में नहीं दिया गया है।

माइलेज : मारुति की गाड़ियां अपने इंजनों के साथ-साथ माइलेज के लिए भी जानी जाती हैं। जहां स्विफ्ट अपने सेगमेंट में सबसे ज्यादा माइलेज 21.21किमी/लीटर का दावा करती है। वहीं पोलो केवल 17.75किमी/लीटर का माइलेज देती है। हालांकि पोलो का टर्बो वैरिएंट 18.24 किमी/लीटर का माइलेज प्रदान करता है।

कीमत: कीमत की बात करें तो Volkswagen Polo की कीमत Swift से ज्यादा है, जहां पोलो की कीमत 5.82 रुपये से लेकर 9.59 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) तक रखी गई हैं, वहीं स्विफ्ट की कीमत 5.19 लाख रुपये से लेकर 8 लाख रुपये एक्स-शोरूम के बीच है। यानी सर्विसिंग और स्पेयर पार्ट्स के लिहाज से मारुति फॉक्सवैगन से काफी सस्ती है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 COVID-19 काल में निजीकरण की ओर बढ़ी नरेंद्र मोदी सरकार, RSS से जुड़े संगठन BMS ने किया विरोध
2 Lock down: टोकरी में दो बच्‍चियों को रख बांस से बांधा और कंधे पर टांग कर कड़ी धूप में निकल पड़ा मजदूर, कॉन्स्टेबल ने की मदद
3 महाराष्ट्र BJP पर बरसी Shivsena, पर नरेंद्र मोदी और अमित शाह से है खुश; की प्रशंसा
ये पढ़ा क्या?
X