ताज़ा खबर
 

Lockdown 4.0 मारुति आज से गुरूग्राम प्लांट पर फिर से शुरू करेगी Brezza और Ignis का प्रोडक्शन, कोरोना के कारण 57 दिन से बंद था काम!

मारुति ने अपने गुरुग्राम प्लांट में 22 मार्च यानी तालाबंदी के पहले चरण से उत्पादन बंद कर दिया था, जिसे अब करीब 57 दिन बाद फिर से शुरू किया जाएगा।

Maruti resume the production of gurugram plant, Maruti Upcoming cars, Lockdown 4.0 guidelines, New guidlines for lockdown 4.0देश में लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ा दिया गया है।

Maruti Suzuki: देश में कोरोना संकट अपने पैस पसार चुका है, इस भयावह बीमारी के कारण लॉकडाउन को कल चौथी बार बढ़ा दिया गया है। हालांकि अब इसमें सरकार ने कुछ राहत देते हुए वाहन कंपनियों को प्रोडक्शन फिर से शुरू करने कर अनुमति दे दी है। जिसमें भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने पिछले सप्ताह अपने मानेसर संयंत्र पर काम शुरू कर दिया है, और आज यानी 18 मई से कंपनी अपने गुरुग्राम प्लांट पर उत्पादन फिर से शुरू करने जा रही है।

मारुति ने अपने गुरुग्राम प्लांट में 22 मार्च यानी तालाबंदी के पहले चरण से उत्पादन बंद कर दिया था, जिसे अब करीब 57 दिन बाद फिर से शुरू किया जाएगा। रविवार को मारुति सुजुकी द्वारा जारी एक बयान में कंपनी ने कहा कि “वह संयंत्र में उत्पादन कार्य के दौरान कोरोना से सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी सरकारी नियमों और दिशानिर्देशों का पालन करेगी।”

बता दें, मारुति सुजुकी ने कर्मचारियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग और हाइजीन के लिए एक Standard operating procedure (SOP) प्रक्रिया तैयार की है। जिसके नियमों को पालन करना प्लांट और डीलरशिप पर अनिवार्य है। मारुति सुजुकी के गुरुग्राम प्लांट पर एस-क्रॉस, विटारा ब्रेज़ा, इग्निस जैसे मॉडल का उत्पादन किया जाता है। दूसरी ओर मानेसर प्लांट पर ऑल्टो, स्विफ्ट, डिजायर, एस-प्रेसो, अर्टिगा और बलेनो जैसे मॉडल तैयार किए जाते हैं।

22 अप्रैल को हरियाणा सरकार ने मारुति सुजुकी को अपनी मानेसर सुविधा को फिर से शुरू करने की अनुमति दी थी, लेकिन कंपनी ने कहा था कि वह तभी काम शुरू करेगी जब यह निरंतर उत्पादन बनाए रख सके और वाहन बेचने में भी सक्षम हो। मारुति के डीलरों में से लगभग एक तिहाई ने अभी तक शोरूम को फिर से नहीं खोला है। पिछले हफ्ते मारुति सुज़ुकी ने घोषणा की कि मार्च के तीसरे सप्ताह के बाद से राष्ट्रीय लॉकडाउन के कारण देश में गिरती मांग के कारण मार्च-तिमाही के लाभ में करीब 28% की कमी आई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 BJP बोली- 6 साल, बेमिसाल…लोग एक-एक कर गिनाने लगे बुरा हाल
2 20 करोड़ जनधन खातों में सरकार ने ट्रांसफर किए 10 हजार करोड़ रुपए, जानिए निर्मला सीतारमण की प्रेस कॉन्फ्रेंस की अहम बातें
3 Royal Enfield Classic 350: महंगी हुई कंपनी की बेस्ट सेलिंग बाइक, जानें क्या है खास कारण
IPL 2020
X